--Advertisement--

छत्तीसगढ़ ने पंजाब को आठ विकेट से हराकर बटोरे ६ अंक

छत्तीसगढ़ ने पंजाब को आठ विकेट से हराकर बटोरे ६ अंक

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 05:50 PM IST

चंडीगढ़। कूच बिहार ट्रॉफी में पंजाब को हिमाचल पर मिली शानदार जीत के बाद छत्तीसगढ़ के हाथों आठ विकेट की हार का सामना करना पड़ा। लीग मैच में पंजाब ने पहले बल्लेबाजी की थी और सिर्फ 106 रन पर सभी विकेट गंवा दिए थे। इसके जवाब में छत्तीसगढ़ ने पहली पारी में 213 रन बनाए और 107 रन की अहम बढ़त हासिल की। दूसरी पारी में पंजाब ने 357 रन बनाए लेकिन इसके बाद भी वे हार को टाल नहीं सके। छत्तीसगढ़ ने 2 विकेट पर 251 रन बनाकर आठ विकेट से मैच अपने नाम कर लिया और इस जीत से उन्हें 6 अंक मिले।


मैच में छत्तीसगढ़ ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और ये सही भी रहा। पंजाब का कोई बल्लेबाज पिच पर संघर्ष नहीं कर सका और 337 ओवरों में 106 रन के स्कोर पर सभी विकेट गिर गए। गौरव चौधरी ने सबसे ज्यादा 21 रन बनाए और वे नाबाद लौटे। उनके अलावा कोई बल्लेबाज टिक नहीं पाया। मेजबान टीम की ओर से एन. ध्रुव ने 45 रन देकर पांच बल्लेबाजों को चलता किया जबकि एसके चड्ढा ने दो विकेट चटकाए। एजी राव और गुंजन सिंह ने एक एक विकेट हासिल किया।

जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी छत्तीसगढ़ की भी शुरुआत अच्छी नहीं रही लेकिन हर्ष शर्मा ने 55 रन बनाकर टीम को संभाला। उनके बाद गुंजन सिंह ने 49 रन बनाए और नावेद अली के 36 रनों की बदौलत टीम ने 213 रन बनाए। टीम को 107 रन की लीड मिली। पंजाब के लिए मनदीप सिंह ने चार विकेट लिए जबकि राहुल कश्यप ने तीन विकेट हासिल किए। हरित ने दो विकेट झटके।


दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने के लिए उतरी पंजाब की टीम का टॉप ऑर्डर फेल रहा लेकिन मिडल ऑर्डर में कप्तान प्रभसिमरन सिंह ने अच्छी बल्लेबाजी की। उन्होंने 158 गेंदों पर 24 चौकों और दो छक्कों की मदद से 158 रन की पारी खेली। राहुल कश्यप ने इसके बाद 59 और प्रेरित दत्ता ने नाबाद 37 रन का योगदान दिया। छत्तीसगढ़ की ओर से एजी राव ने तीन विकेट लिए जबकि एसके चड्ढा, एनबी ध्रुव और गुंजन सिंह ने दो दो विकेट हासिल किए।
जवाब में बल्लेबाजी करने के लिए उतरी छत्तीसगढ़ के लिए ओपनर एसएस हुरकत ने अच्छी शुरुआत की और उन्होंने 209 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 137 रन बनाए। उनके बाद पीएम यादव ने 47 और एसआर मौर्य के 31 रनों की बदौलत मेजबान टीम ने आठ विकेट से मैच अपने नाम कर लिया।