--Advertisement--

दोबारा कैंसर होने पर पंजाब सरकार आर्थिक लाभ नहीं दे रही

दोबारा कैंसर होने पर पंजाब सरकार आर्थिक लाभ नहीं दे रही

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 06:02 PM IST

चंडीगढ़ . दोबारा कैंसर होने पर पंजाब सरकार के सीएम कैंसर रिलीफ फंड से रोगियों को कोई आर्थिक लाभ नहीं मिल रहा है। इस संबंध में एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार से इस बारे में जवाब मांगा है।


वकील एचसी अरोड़ा की तरफ से कहा गया कि कैंसर के उपचार के लिए रिलीफ फंड से डेढ़ लाख रुपए तक की आर्थिक मदद पंजाब सरकार कर रही है, लेकिन दोबारा कैंसर हो जाने पर इसका लाभ नहीं दिया जा रहा। अरोड़ा ने बठिंडा निवासी ऊषा रानी का उदाहरण देते हुए कहा कि उन्हें कैंसर के उपचार के लिए सरकार से एक बार फ्री उपचार का लाभ मिला, लेकिन दोबारा कैंसर हो जाने पर सिविल सर्जन ने स्कीम के तहत लाभ देने से इंकार कर दिया। कहा गया कि यह वन टाइम स्कीम है।


अरोड़ा ने कहा कि कैंसर के टेस्ट कराने में भी 25 से 30 हजार रुपए का खर्च है। पंजाब सरकार के वकील ने कहा कि ये टेस्ट सरकारी अस्पतालों में फ्री में किए जा रहे हैं। इस पर अरोड़ा ने कहा कि रोगी इन टेस्ट का खर्च उठा रहे हैं। इनमें से भी बहुत से लोग इतने गरीब हैं कि वे टेस्ट का खर्च भी नहीं उठा सकते।