--Advertisement--

चुनाव में ईवीएम के साथ वीवीपीएटी के इस्तेमाल की मांग खारिज

चुनाव में ईवीएम के साथ वीवीपीएटी के इस्तेमाल की मांग खारिज

Danik Bhaskar | Dec 12, 2017, 03:04 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब में नगर निगम चुनावों से ठीक पहले इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के साथ पेपर ट्रायल मशीनों का भी इस्तेमाल किए जाने की मांग को लेकर जनहित याचिका पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने वापस लिए जाने पर खारिज कर दी।


जस्टिस अजय कुमार मित्तल और जस्टिस अमित रावल की खंडपीठ ने कहा कि याचिका में इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया को पार्टी बनाया जाना चाहिए था।

पंजाब सरकार की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया ये मशीनें मुहैया कराता है। याचिका वापस लिए जाने की मांग पर कोर्ट ने इसे खारिज करते हुए छूट दी कि याची चाहे तो जनरल डायरेक्शन के लिए अगल से याचिका दायर कर सकता है।


वकील प्रद्युमन गर्ग की तरफ से दाखिल याचिका में कहा गया कि वोटर वैरिफिएबल पेपर आडिट ट्रायल (वीवीपीएटी) सिस्टम को लागू करने से ईवीएम से छेड़छाड़ जैसे आरोपों से बचा जा सकेगा। साथ ही लोकतांत्रिक चुनावी व्यवस्था में लोगों का विश्वास बढ़ेगा।


इससे पंजाब में कॉरपोरेशन और काउंसिल चुनाव निष्पक्ष कराने में मदद मिलेगी। याचिका में कहा गया कि हाल ही में उत्तरप्रदेश में चुनावों के दौरान ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोप लगे थे। बहुत से लोगों ने शिकायत की थी कि उनके वोट उनकी पसंद के मुताबिक नहीं डाले गए। ऐसे में इन आरोपों से बचने के लिए ईवीएम के साथ वीवीपीएटी सिस्टम का इस्तेमाल किया जाए।