--Advertisement--

गर्ल्स कॉलेज में कुछ यूं डांस कर सेलिब्रेट की गई लोहड़ी

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 03:52 PM IST

गर्ल्स कॉलेज में कुछ यूं डांस कर सेलिब्रेट की गई लोहड़ी

 Grils dance on Lohri

चंडीगढ़. पंजाबी दुनिया में जहां अपनी अलग पहचान रखते हैं, वहीं पंजाब के त्योहारों की भी अपनी एक अलग जगह है। साल की सभी ऋतुओं पतझड़, सावन और बसंत में कई तरह के छोटे-बड़े त्योहार यहां मनाए जाते हैं, जिन में से एक प्रमुख त्योहार लोहड़ी है।

कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए भाईचारे की सांझ और अग्नि का सुकून लेने के लिए यह त्योहार मनाया जाता है। बाकी त्योहारों जैसे दिवाली, बैसाखी की तरह इस त्योहार के साथ कोई धार्मिक घटना नहीं जुड़ी हुई है, इसी कारण यह त्योहार पंजाब की सभ्यता का प्रतीक बन गया है। लोहड़ी से एक दिन पहले स्कूलों और विभिन्न संस्थानों में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए। वहीं, बाजारों में भी खासी रौनक रही। शनिवार को पंचकूला के सेक्टर-14 स्थित जीसीजी कॉलेज में गर्ल्स ने लोहड़ी के मौके पर जमकर डांस किया।


तिल+रोड़ी से बना लोहड़ी शब्द


लोहड़ी शब्द तिल + रोड़ी (रेवड़ी) शब्दों के मेल से बना है, जो समय के साथ बदल कर तिलोड़ी और बाद में लोहड़ी हो गया। लोहड़ी का संबंध कई ऐतिहासिक कहानियों के साथ जोड़ा जाता है, पर इससे जुड़ी प्रमुख लोककथा दुल्ला भट्टी की है जो मुगलों के समय का एक बहादुर योद्धा था, जिसने मुगलों के बढ़ते जुल्म के खिलाफ आवाज उठाई थी।

X
 Grils dance on Lohri
Astrology

Recommended

Click to listen..