चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

दंगल से टेनिस कोर्ट तक पहुंचे कृष्ण हुड्डा

दंगल से टेनिस कोर्ट तक पहुंचे कृष्ण हुड्डा

Danik Bhaskar

Dec 04, 2017, 04:35 PM IST

चंडीगढ़। एक खिलाड़ी बचपन से एक ही गेम को खेलता हुए बड़ा होता है और उसी में अपने आप को साबित करता है। लेकिन सीएलटीए चार्ट ट्रेनी कृष्ण हुड्डा का करियर ऐसा नहीं है। बचपन में कुश्ती के दांव लगाने वाले आज एक सफल टेनिस खिलाड़ी हैं और उनका चयन भारतीय टीम में भी हो गया है। पढ़ें पूरी खबर...



कतर में 25 दिसंबर से होने वाले जूनियर एशियन टेनिस चैंपियनशिप में कृष्ण हुड्डा भारतीय अंडर-14 टीम का हिस्सा होंगे। 10 साल की उम्र तक कृष्ण ने कभी टेनिस देखा तक नहीं था। वे इंटर स्कूल में कुश्ती करते थे। इंटर स्कूल टूर्नामेंट में पदक भी जीते और कई दंगल में भी हिस्सा लिया। नेशनल की भी तैयारी कर रहे थे तभी उनके करियर ने मोड़ लिया और उनका चयन टेनिस एकेडमी के लिए हो गया। अब वे भारतीय टीम के लिए खेलने की तैयारी कर रहे हैं।

स्पैट ने बदला हुड्डा का ट्रैक...

हरियाणा स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट ने खिलाड़ियों की क्षमता जांचने के लिए स्पैट नाम का टेस्ट शुरु किया था इसमें कृष्ण ने भी हिस्सा लिया और उनका सलेक्शन उसमें हो गया। यहीं से उनके ट्रैक में मोड़ आ गया। उन्होंने कहा कि मुझे याद है कि मैंने उसमें कई फिजिकल टेस्ट और रेस ने हिस्सा लिया। 1500 रुपए का स्टायफंड भी मिला।

कुछ महीने बाद चंडीगढ़ एसोसिएशन फॉर रुरल टेनिस(चार्ट) ने मेरा टेस्ट लिया और मुझे सिलेक्ट किया। उस समय तक मेरा टेनिस के लिए इंटरेस्ट नहीं था और इस खेल से जुड़ने का कोई मन नहीं था। लेकिन आज अच्छा लगता है। मैंने कई टाइटल जीते हैं ओर मैं अब अपने देश के लिए भी मेडल जीतना चाहता हूं।

Click to listen..