Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Loan Forgiveness Of Rs. 167 Crores For 46,556 Farmers From Cooperative Societies In Punjab

पंजाब में 46,556 किसानों को कोऑपरेटिव सोसायटियों से लिए 167 करोड़ रुपए की कर्ज माफी

किसानों की परेशानी का कारण सहकारी कर्ज नहीं बल्कि सरकारी बैंकों और आढ़तियों का है, जिसकी माफी अगले चरणों में होगी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 07, 2018, 03:24 PM IST

पंजाब में 46,556 किसानों को कोऑपरेटिव सोसायटियों से लिए 167 करोड़ रुपए की कर्ज माफी

मानसा। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह चुनावी घोषणा पूरे करते हुए रविवार को मानसा में प्रदेश स्तरीय समागम में किसान कर्जमाफी की शुरुआत कर दी है। पहले चरण में 5 जिलों बठिंडा, मानसा, मुक्तसर, मोगा और फरीदकोट के 46,556 किसानों का कोऑपरेटिव सोसायटियों से लिया 167 करोड़ का कर्ज माफ होगा। इस कार्यक्रम में कांग्रेस की सीनियर नेताओं के अलावा बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे।


इस दायरे में रखे गए 46,556 में से हर किसान का औसतन करीब 36,400 रुपए कर्ज माफ हो रहा है। क्योंकि कोऑपरेटिव सोसायटियां किसानों को साल में दो बार फसली कर्ज देती हैं। गेहूं के लिए अधिकतम 20 हजार प्रति एकड़ और धान के लिए 22 हजार रुपए प्रति एकड़।

इसलिए ढ़ाई एकड़ तक के किसानों का कोऑपरेटिव सोसायटियों का कर्ज एक लाख से भी कम बनता है। जबकि किसानों की परेशानी का कारण सहकारी कर्ज नहीं बल्कि सरकारी बैंकों और आढ़तियों का है, जिसकी माफी अगले चरणों में होगी।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pnjaab mein 46,556 kisaanon ko koauparetiv sosaaytiyon se liye 167 karode rupaye ki karj maafi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×