--Advertisement--

खड़े ट्रक से टकराई ४९ स्टूडेंट्स से भरी स्कूल बस, ऐसे पड़ी थी टीचर की लाश

खड़े ट्रक से टकराई ४९ स्टूडेंट्स से भरी स्कूल बस, ऐसे पड़ी थी टीचर की लाश

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 11:38 AM IST
हादसे के बाद टीचर और स्टूडेंट् हादसे के बाद टीचर और स्टूडेंट्

जालंधर: यहां शहर के नजदीक गोराया में सरकारी स्कूल के बच्चों को विज्ञान टूर पर ले जा रही पीआरटीसी की एक बस मंगलवार सुबह 8:30 बजे खड़े ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में एक टीचर की मौत हो गई, जबकि 6 स्टूडेंट्स की हालत नाजुक बताई जा रही है, जिन्हें हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है।

बस में कुल 49 स्टूडेंट्स थे, जिनमें 28 लड़के, 21 लड़कियां तथा 3 टीचर सवार थे। जिनमें ड्राइंग टीचर की मौके पर ही मौत हो गई। मृतक टीचर गुरचरन सिंह आगे वाली सीट पर ड्राइवर के साथ बैठे थे। बताया जा रहा है कि गवर्मेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल संगरूर के बच्चों से भरी बस तूंगा से कपूरथला जा रही थी। तभी गोराया के पास यह हादसा हो गया।

बच्चों और फूलों से बहुत प्यार करते थे टीचर गुरचरण सिंह


हादसे में मृतक गुरचरण सिंह की उम्र करीब 55 वर्ष की थी। वह संगरूर की ऑफिसर काॅलोनी के रहने वाले थे। तुंगां में वर्ष 2010 से ड्राइंग मास्टर के पद पर तैनात थे। गांव निवासी गुरमेल सिंह, हरभजन सिंह का कहना है कि गुरचरण सिंह की मौत से परिवार के साथ-साथ स्कूल को बहुत घाटा पड़ा है। गुरचरण सिंह हरियाली और फूलों को बहुत प्यार करते थे। जिस कारण स्कूल में कई फूलों के पौधे भी लगे हैं। जब कोई बच्चा स्कूल नहीं आता था तो वह बच्चे को लेने उनके घर पहुंच जाते थे। वह छात्रों के हरमन प्यारे थे।