Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Patiala Won DP Azaad Trophy

पटियाला ने जीती डीपी आजाद ट्राॅफी, चंडीगढ़ हारा

विजेता टीम को 50 हजार का कैश अवॉर्ड मिला जबकि रनरअप टीम को 25 हजार का ईनाम मिला

gaurav marwaha | Last Modified - Aug 11, 2018, 08:35 PM IST

पटियाला ने जीती डीपी आजाद ट्राॅफी, चंडीगढ़ हारा

चंडीगढ़। पंजाब स्टेट अंडर-19 इंटर डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट टूर्नामेंट फॉर डीपी आजाद ट्रॉफी में पटियाला ने चंडीगढ़ को हराकर ट्रॉफी अपने नाम कर ली। ध्रुव पांडव स्टेडियम पर खेले गए फाइनल मैच में चंडीगढ़ ने पहले बल्लेबाजी की और 47 ओवरों में 181 रन का स्कोर खड़ा किया। जवाब में बल्लेबाजी करने के लिए उतरी पटियाला की टीम ने 37.4 ओवरों में ही चार विकेट गंवाकर जीत दर्ज कर ली। डॉ. जेआर सचदेवा ने खिलाड़ियों को सम्मानित किया। विजेता टीम को 50 हजार का कैश अवॉर्ड मिला जबकि रनरअप टीम को 25 हजार का ईनाम मिला।

ध्रुव पांडव स्टेडियम में चंडीगढ़ ने टॉप जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। टीम के ओपनर इशान और अर्जुन आजाद ने पहले विकेट के लिए 26 रन जोड़े लेकिन अर्जुन इस बार 19 रन बनाकर ही लौट गए। इसके बाद राजा अंगद बावा ने इशान के साथ दूसरे विकेट के लिए 43 रन की पार्टनरशिप की। इशान भी 21 रन पर लौट गए और उनकी जगह लेने आए आयुष गौतम तीन रन के स्कोर पर ही विकेट गंवा बैठे। चंडीगढ़ का स्कोर अब 24.2 ओवरों में 3 विकेट पर 84 रन था। अनुराग वत्स ने टीम को आयुष सिक्का के रूप में चौथा झटका दिया। टीम का स्कोर 4/86 रन था और फिर राजा अंगद और तवलीन सिंह ने 35 रन जोड़े। राजा अंगद अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन वे भी पारी को 51 रन तक ही लेकर जा सके। इसके बाद तवलीन ने अंतिम बल्लेबाजों के साथ रन बटोरे और 43 रन की पारी खेली। इसमें दो चौके शामिल रहे और टीम 47 ओवरों में 181 रन पर ढेर हो गई। पटियाला की ओर से तेजप्रीत सिंह ने तीन बल्लेबाजों को चलता किया जबकि अनुराग वत्स और आर्यमान ने दो दो विकेट लिए। दीपक और विश्वजीत ने एक एक विकेट निकाला।

इसके जवाब में उतरी पटियाला टीम को प्रभसिमरन और पुखराज सिंह ने 39 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई। आयुष ने कैच लपक कर 13 रन पर पुखराज को चलता कर दिया। अमित शुक्ला ने टीम को दूसरा झटका दिया और पटियाला की टीम खतरे में आ गई। इसके बाद मेजबान टीम के बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 61 रन जोड़े। प्रभसिमरन टिके रहे और उन्होंने मैदान के चारों ओर से रन बटोरे। 5वें विकेट के लिए उन्होंने फतहवीर के साथ 71 रन जोड़े और टीम को जीत दिला दी। उनकी इस पारी में 110 गेंदों पर बनाए 13 रन शामिल रहे। प्रभसिमरन ने 13 चौके लगाए और पांच छक्के जड़े। टीम ने 6 विकेट के नुकसान पर फाइनल मैच जीता। चंडीगढ़ की ओर से अमित शुक्ला ने तीन बल्लेबाजों को चलता किया जबकि जगदीप सिंह ने एक विकेट लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×