--Advertisement--

प्रदुमन मर्डर केस में बस कंडक्टर को मुआवजे और दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग नामंजूर

प्रदुमन मर्डर केस में बस कंडक्टर को मुआवजे और दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग नामंजूर

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 04:39 PM IST

चंडीगढ़. गुरु ग्राम के रेयान स्कूल के स्टूडेंट प्रदुमन मर्डर केस में बस कंडक्टर अशोक कुमार को मुआवजे और दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने मंजूर नहीं किया है।


जस्टिस सूर्यकांत की खंडपीठ ने कहा कि मौजूदा समय में इस मामले में सुनवाई नहीं की जा सकती। सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है। ऐसे में केस प्री-मैच्योर है। याची चाहे तो दोबारा बाद में इस मामले को लेकर याचिका दायर कर सकता है।


वकील एचसी अरोड़ा की तरफ से दाखिल याचिका में कहा गया कि पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में सुप्रीम कोर्ट के वर्ष २०१५ में दिए गए डीके बासु मामले में निर्देशों का सही ढंग से पालन नहीं किया जा रहा। सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस थानों में टार्चर किए जाने के खिलाफ निर्देश जारी किए थे। याचिका में कहा गया कि बस कंडक्टर अशोक कुमार को दो माह से ज्यादा जेल में बिताने पड़े।