--Advertisement--

एक स्कैम में छूटे तो दूसरे में फंसे, अब जमानत के लिए भी जूझ रहे

एक स्कैम में छूटे तो दूसरे में फंसे, अब जमानत के लिए भी जूझ रहे

Danik Bhaskar | Dec 13, 2017, 10:52 AM IST

चंडीगढ़. टीचर भर्ती घोटाले से जुड़े दो आरोपी एक स्कैम में तो पुलिस की लापरवाही के कारण छूट गए, लेकिन अब दूसरे केस में बुरी तरह फंस गए हैं। यहां तक कि अब उन्हें कोर्ट से जमानत भी नहीं मिल रही है। टीचर भर्ती घोटाले के दो आरोपियों शिव कुमार और शैलेष कुमार को पहले पुलिस ने जेबीटी स्कैम में गिरफ्तार किया था, लेकिन वहां से उन्हें जमानत मिल गई और कुछ दिनों बाद ही पुलिस ने उन्हें टीजीटी स्कैम में गिरफ्तार कर लिया।



यूटी पुलिस ने शैलेष कुमार और शिव कुमार को टीजीटी स्कैम में 13 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था। इससे पहले जब उन्हें जेबीटी स्कैम में गिरफ्तार किया था तब पुलिस उस केस में 90 दिनों के तय समय में चालान कोर्ट में पेश नहीं कर सकी थी जिस कारण दोनों को जमानत मिल गई थी। लेकिन अब फिर दोनों जेल में पहुंच गए हैं।

जनवरी 2015 में 1150 टीचर्स की भर्ती के लिए जेबीटी-टीजीटी पेपर हुए थे। ये पेपर दिल्ली की एक प्रिंटिंग प्रेस से लीक हो गए। इस संबंध में चंडीगढ़ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी।