--Advertisement--

आतंकी टुंडा की अपील एडमिट, जुर्माने पर रोक

आतंकी टुंडा की अपील एडमिट, जुर्माने पर रोक

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 03:38 PM IST

चंडीगढ़। वर्ष 1996 के सोनीपत बम ब्लास्ट केस में सुनाई गई उम्रकैद की सजा के खिलाफ लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी अब्दुल करीम उर्फ टुंडा की अपील पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने सुनवाई के लिए एडमिट कर ली है। हाईकोर्ट ने इस दौरान एक लाख रुपये जुर्माने पर रोक लगा दी है। टुंडा को सोनीपत की अदालत ने हत्या के प्रयास, आपराधिक साजिश एवं एक्सप्लोजिव एक्ट के तहत दोषी पाते हुए उम्रकैद व एक लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई थी।



75 वर्षीय टुंडा उन 20 आतंकवादियों में से एक था जिसे मुम्बई में 26/11 के हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से सौंपने की मांग की थी।
बाद में उसे भारत-नेपाल बार्डर के पास बन बासा से 16 अगस्त, 2013 को खुफिया जानकारी के आधार पर पकड़ा गया था।
देशभर में हुए 40 बम धमाकों में उसके शामिल होने का शक जताया गया था। सोनीपत में 28 दिसंबर, 1996 को दो अलग अलग जगहों पर दो बम धमाके हुए थे।
इनमें 15 लोग घायल हो गए थे। सज्जन सिंह नामक व्यक्ति की शिकायत पर शुरूआत में अज्ञात के खिलाफ यह केस दर्ज किया गया था।
बाद में टुंडा को इस बम धमाके में आरोपी पाया गया था।