Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» The Administration Will Do This Work In The New Year, Target Fixed

नए साल में प्रशासन ये काम करेगा पूरा, टारगेट तय

जनवरी महीने से ही बिल्डिंग्स के सभी नक्शों की ऑनलाइन अप्रूवल का सिस्टम शुरु किए जाने की तैयारी है।

yograj sharma | Last Modified - Jan 02, 2018, 11:59 AM IST

नए साल में प्रशासन ये काम करेगा पूरा, टारगेट तय

चंडीगढ़। चंडीगढ़ प्रशासन ने नए साल में प्राथमिकता के आधार पर विकास कार्य करवाने की सूची तैयार कर ली है। इस सूची में वे कार्य भी शामिल किए गए हैं, जो धीमी गति से चल रहे हैं। पढ़ें पूरी खबर...


करवाए जाने वाले कार्य...


1. जनवरी महीने में सेक्टर-23 के चिल्ड्रन ट्रैफिक पार्क में इनोवेटिव ड्राइविंग टेस्ट सिस्टम(आईडीटीएस) शुरु हो जाएगा। इसमें कैमरा बेस्ड असेस्मेंट से ही ड्राइविंग स्किल देखे जाएंगे और उसी तरह से किसी एप्लीकेंट को रेगुलर ड्राइविंग लाइसेंस देना है या नहीं इसका फैसला होगा। फरवरी 2015 में इस प्रोजेक्ट को फाइनल किया गया लेकिन ये प्रोजेक्ट तय टाईम से काफी पीछे चल रहा है।

2. जनवरी महीने से ही बिल्डिंग्स के सभी नक्शों की ऑनलाइन अप्रूवल का सिस्टम शुरु किए जाने की तैयारी है। हालांकि ये प्रोजेक्ट भी करीब दो साल से चल रहा है लेकिन इस बार इसके लिए सॉफ्टवेयर परचेज करने का प्रोसेस चल रहा है जो कि इसी हफ्ते तक पूरा हो जाएगा। लोगों को सुविधा ये मिलेगी कि उनको बार बार इस्टेट ऑफिस के चक्कर नक्शा पास करवाने के लिए नहीं लगाना पड़ेगा। नक्शे में अगर कोई ऑब्जेक्शन नहीं होगी तो इसी अप्रूवल तय टाईम पर हो जाएगी और अगर कोई ऑब्जेक्शन होगी तो ईमेल या वाट्सएप के जरिए जानकारी एप्लाई करने वाले के पास भेज दी जाएगी।

3. हाउसिंग बोर्ड सेक्टर-53 में ईडब्लयूएस से लेकर वन रूम, वन बेडरूम, टू बेडरूम और थ्री बेडरूम के 498 फ्लैट्स बनाएगा। सेक्टर 53 की हाउसिंग स्कीम में ईडब्लयूएस के 78, वन रूम के 120, टू बेडरूम के 100 और थ्री बेडरूम के 200 फ्लैट्स तैयार किए जाएंगे।

4. 18 मई तक सभी एक कनाल से ज्यादा एरिया की बिल्डिंग्स में सोलर प्लांट लगाना जरूरी है। इसलिए करीब 19 हजार लोगों को इस तारीख तक सोलर प्लांट लगाना होगा नहीं तो बिल्डिंग बायलॉज के हिसाब से कार्रवाई होगी।

5. इस नए साल चंडीगढ़ पूरी तरह से रिन्यूअल एनर्जी (आरई) हो जाएगा। दरअसल अभी करीब 24 मेगावॉट बिजली ही थर्मल प्लांट से आती है जिसकी जगह विंड पावर परचेज की जाएगी।

6. सोलर एनर्जी को लेकर अभी 15 मेगावॉट बिजली जेनरेट की जा रही है। इस नए साल में सोलर प्लांट्स के जरिए करीब 32 मेगावॉट बिजली जेनरेट की जा सकेगी। इसके लिए करीब 18 मेगावॉट सोलर प्लांट एमसी के वाटर वर्क्स में लगाए जाएंगे।

7. नई 40 बसें सीटीयू को मिलेगी जो कि इंटर सिटी के लिए खरीदी जा रही हैं। इसके साथ ही इटैलिजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम को भी इसी साल से लागू किए जाने की तैयारी है जिसके लिए 30 जनवरी तक टेंडर मंगवाए गए हैं। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक बसें भी चंडीगढ़ को इस साल मिल सकती हैं जिसके लिए भी टेंडर किया गया है।

8. एयर पॉल्यूशन चंडीगढ़ का बढ़ गया है। इसका रीयल टाईम डाटा मिल सके इसके लिए तीन एयर मॉनेट्रिंग स्टेशन बनेंगे। एक पंजाब यूनिवर्सिटी में, दूसरा गवर्नमेंट कॉमर्स कॉलेज सेक्टर-50 और तीसरा सेक्टर-26 में। इन स्टेशन से सारा डाटा प्रत्येक घंटे का मिल सकेगा और उसी टाईम पांच अलग अलग जगहों पर लगे डिस्पले बोर्ड पर ये लोग देख सकेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×