Hindi News »Union Territory News »Chandigarh News »News» The Survival Of The Two Princely States Of Himachal Pradesh, Including The Son CM Virbhadra Singh

हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 18, 2017, 04:25 PM IST

बुशहर रियासत से ताल्लुक रखने वाले सीएम वीरभद्र सिंह ने इस बार सोलन जिले के अर्की विधानसभा क्षे की ओर रूख किया था।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    पिता वीरभद्र और बेटा विक्रमादित्य जीते।

    चंडीगढ़। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावी अखाड़े में कूदे राजघरानों के सात सदस्यों में से प्रदेश के सीएम वीरभद्र सिंह समेत तीन ही रजवाड़े अपनी साख बचाने में कामयाब हुए हैं। इनमें वीरभद्र सिंह के बेट विक्रमादित्य सिंह और क्यारकोटी रियासत के घराने से अनिरुद्ध सिंह शामिल हैं। पढ़ें पूरी खबर...

    - राजघरानों के सात सदस्यों में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, उनके बेटे विक्रमादित्य सिंह, अनिरुद्ध सिंह, आदित्य विक्रम सिंह और आशा कुमारी सभी कांग्रेस के टिकट पर तथा निवर्तमान विधायक महेश्वर सिंह और विजय ज्योति सेन भाजपा की टिकट से चुनाव मैदान में थे ।

    - बुशहर रियासत से ताल्लुक रखने वाले सीएम वीरभद्र सिंह ने इस बार सोलन जिले के अर्की विधानसभा क्षे की ओर रूख किया था। उन्होंने भाजपा के रत्न सिंह पाल को करीब 6000 मतों से परास्त किया। उनके बेटे विक्रमादित्य सिंह शिमला ग्रामीण विस क्षेत्र से भाजपा के प्रमोद शर्मा को 4880 मतों से हराकर अपनी राजनीति की नई शुरूआत की।

    - कुसुम्पटी सीट से कोटी रियासत के अनिरूद्ध सिंह चुनावी समर में बाजी मार गए। कांग्रेस का गढ़ माने जाने वाले कुसुम्पटी में भाजपा ने क्योंथल राजघराने का सहारा लेते हुए साल 2012 में निर्दलीय चुनाव लड़ चुकी विजय ज्योति सेन को मैदान में उतारा था।

    - अनिरूद्ध ने उन्हें 9417 मतों से हरा दिया। गौरतलब है यहां से वर्तमान विधायक अनिरूद्ध सिंह लगातार दूसरी बार चुनाव मैदान में थे। भाजपा प्रत्याशी विजय ज्योति सेन मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी की भाभी है और उन्होंने चुनाव से कुछ दिन पहले ही भाजपा का दामन थामा था।

    - अपने स्वर्गीय पिता व पूर्व मंत्री कर्ण सिंह के निधन के बाद कुल्लू रियासत के वारिस आदित्य विक्रम सिंह बंजार सीट से पहली बार अपनी सियासी पारी की शुरुआत की लेकिन वह कामयाम नहीं हो पाए उन्हें भाजपा के सुरेंद्र शौरी ने 2824 मतों से परास्त किया । जबकि उनके ताया महेश्वर सिंह विरोधी पार्टी भाजपा की टिकट पर कुल्लू से चुनाव मैदान में थे। पिछली बार महेश्वर सिंह ने हिलोपा पार्टी की टिकट पर चुनाव जीता था, लेकिन इस बार उन्हें भी कांग्रेस के सुरेंद्र ठाकुर ने 1538 मतों से परास्त किया।

    - चंबा जिले की डल्हौजी रिसायत की वारिस आशा कुमारी इस बार फिर डल्हौजी सीट से चुनाव लड़ा । आशा कुमारी की गिनती कांग्रेस की वरिष्ठ नेताओं में होती है और कांग्रेस आलाकमान में उनकी अच्छी खासी पैठ है, उन्होंने भजपा डीएस ठाकुर को करीब 550 मतों से हरा दिया।

  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    कर्ण सिंह के बेटे विक्रम आदित्य हारे।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    क्यारकोटी रियासत के अनिरुद्ध जीते।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    पंजाब कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी हारीं।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    ज्योति सेन हारीं।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    महेश्वर सिंह हारे।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    वीरभद्र सिंह।
  • हिमाचल के 3 राजघरानों की बची साख, बेटे समेत जीते मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह
    +7और स्लाइड देखें
    विक्रमादित्य सिंह।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: The Survival Of The Two Princely States Of Himachal Pradesh, Including The Son CM Virbhadra Singh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×