Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» City Star Anjum Second Medal In Commonwealth Shooting

सिटी स्टार अंजुम को कॉमनवेल्थ शूटिंग में दूसरा मेडल

सिटी स्टार अंजुम को कॉमनवेल्थ शूटिंग में दूसरा मेडल

gaurav marwaha | Last Modified - Nov 04, 2017, 10:44 PM IST

चंडीगढ़।सिटी स्टार शूटर अंजुम मौदगिल ने कॉमनवेल्थ शूटिंग चैंपियनशिप में अपना दूसरा मेडल जीतकर टीम इंडिया का मेडल काउंट 14 कर दिया है। अंजुम ने ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन में चल रही शूटिंग चैंपियनशिप के 50 मीटर प्रोन राइफल में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया। अंजुम का ये दूसरा मेडल है और वे इससे पहले 10 मीटर एयर राइफल में सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं। अंजुम ने यहां पर 60 शॉट्स के साथ 616.7 अंक हासिल किए और वे तीसरे नंबर पर रहीं। स्कॉटलैंड की सियोनेद मैकेनतोश ने 619.9 अंकों के साथ सिल्वर और जेनिफर मैकेनतोश ने रिकॉर्ड 620.7 अंकों के साथ गोल्ड मेडल हासिल किया।

मदर्स ड्रीम पूरा कर रही हैं अंजुम:
डीएवी कॉलेज की शूटर अंजुम इंटरनेशनल सर्किट पर मेडल जीतती हैं तो उनसे ज्यादा खुशी उनकी मां शुभ मौदगिल को होती है। अंजुम की हर सफलता में उनकी मां अपने आप को सफल होते देखती हैं क्योंकि ये उन्हीं का सपना था। पंजाब यूनिवर्सिटी की शूटिंग टीम में तीन साल तक हिस्सा लेने वाली अंजुम की मां ने ही उन्हें शूटिंग शुरू कराई थी। 2007 सितंबर में शुभ मौदगिल पहली बार उन्हें रेंज में लेकर गईं और शूटिंग से रू-ब-रू कराया। अंजुम ने उस दिन पहली बार किसी कि पिस्टल से निशाना साधा और दो महीने बाद ही स्टेट चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल भी हासिल कर दिया। इसके बाद उन्होंने शूटिंग को सही मायने में जीवन का हिस्सा बना लिया।

पिस्टल के बाद राइफल बनी पहचान:
एक साल तक पिस्टल शूटिंग करने के बाद अंजुम ने सेक्रेड हार्ट स्कूल में एनसीसी जॉइन की। एनसीसी के कैंप में उन्होंने राइफल से सटीक निशाना साधा और शूटिंग कोच रहे कर्नल एमएस. चौहान ने उनके टैलेंट को पहचाना। कर्नल ने उन्हें शूटिंग की कोचिंग दी और अंजुम की राइफल शूटिंग में सुधार आया। दो साल के बाद ही अंजुम ने भारतीय टीम के लिए डेब्यू कर लिया। इसके बाद अंजुम ने पलट कर नहीं देखा और अंजुम सीनियर से लेकर जूनियर शूटिंग तक अपने नाम की पहचान करवा रही है। भारतीय टीम में आने के बाद उन्हें हालांकि काफी संघर्ष करना पड़ा लेकिन कोच दिपाली ने उनके मेंटल स्टेट को सुधारने में काफी मदद की।

ओलंपियन को भी बीट कर चुकी हैं अंजुम:
अंजुम के निशाने इतने पक्के हैं कि वे कई बड़ी शूटर्स को शिकस्त दे चुकी हैं। उन्होंने एक कुछ समय पहले दिल्ली में हुई नेशनल शूटिंग में तीन बार की ओलंपियन अंजली भागवत को हराकर गोल्ड मेडल जीता था। इसके बाद उन्होंने हालही रियो ओलंपिक में हिस्सा लेने वाली अयोनिका पॉल को हराकर भी गोल्ड मेडल जीता था। अभी तक के अपने शूटिंग करियर में अंजुम करीब 25 इंटरनेशनल मेडल हासिल कर चुकी हैं जबकि 100 से ज्यादा नेशनल मेडल भी उनके नाम हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×