Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Minerva Academy Finals After Overage Protest

ओवरएज प्रोटेस्ट के बाद मिनर्वा एकेडमी फाइनल में

ओवरएज प्रोटेस्ट के बाद मिनर्वा एकेडमी फाइनल में

gaurav marwaha | Last Modified - Nov 29, 2017, 10:36 PM IST

चंडीगढ़। 15वें एडमिनिस्ट्रेटर चैलेंज कप ऑल इंडिया फुटबॉल टूर्नामेंट में ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन(एआईएफएफ) की वेबसाइट के डाटा के आधार पर फतहगढ़ साहिब की कॉर्डियल साउथहॉल फुटबॉल एकेडमी को स्क्रैच कर दिया। सेमीफाइनल में मिनर्वा एकेडमी ने हारने के बाद साउथहॉल टीम पर दो ओवरएज प्लेयर खिलाने का आरोप लगाया था जिस पर कमेटी ने बुधवार को अपना निर्णय सुनाया। कमेटी ने ये फैसला तब सुनाया जब दोनों ही टीमों की मैनेजमेंट नहीं आईं थी। सात दिन से चल रही इस चैंपियनशिप का बुधवार को सबसे मुश्किल दिन रहा।


मंगलवार को सेमीफाइनल के बाद मिनर्वा ने अपना प्रोटेस्ट किया था। मैनेजमेंट ने बुधवार को कॉर्डियल साउथहॉल फुटबॉल एकेडमी के दो प्लेयर की जांच की। सुबह ही कमेटी ने साउथहॉल टीम को हटाने का फैसला कर लिया और दोनों ही टीमें उस समय वहां पर अपना पक्ष रखने के लिए मौजूद नहीं थी। साउथहॉल को सेमीफाइनल से स्क्रैच तो किया ही साथ में तीन साल का बैन भी उन पर लगाया गया। दो घंटे की मीटिंग के बाद कमेटी ने दो प्लेयर्स में से एक को ओवरएज पाया। कमेटी के अनुसार प्लेयर्स की एज प्रूफ से छेड़छाड़ करने का भी साउथहॉल टीम को दोषी पाया और फतेहगढ़ टीम को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया।


फतेहगढ़ टीम मैनेजमेंट संतुष्ट नहीं: कमेटी के फैसले से फतेहगढ़ की टीम संतुष्ट नहीं दिखी। उनके बाहर हो जाने के बाद थर्ड प्लेस मैच कैंसिल हो गया और मिनर्वा एकेडमी को फाइनल में जगह मिल गई। अब उनका सामना सीएफए के साथ होगा। फतेहगढ़ टीम मैनेजमेंट ने कहा कि हमने भी एक प्रोटेस्ट किया था और उस पर किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की, न ही कमेटी ने हमारी बात सुनी। उन्होंने एक पक्ष को ही सुना और उस पर फैसला सुना दिया। हमने भी पांच प्लेयर्स पर ओवरएज होने का आरोप लगाया था। इनमें से तीन प्लेयर्स को ताे फीफा वर्ल्ड कप कैंप से ओवरएज होने के कारण निकाला गया था। हमारी बात पर किसी ने गौर नहीं किया।

ये फुटबॉल के लिए अच्छा नहीं है। इतना फेवर करना गेम के लिए हानिकारक है। कमेटी ने एक पक्ष की ही बात सुनी। हमारे पास सभी प्लेयर्स पंजाब के हैं और हम गेम को बढ़ावा दे रहे हैं। यहां खेलकर हमें सिर्फ निराशा ही मिली है। -चना गिल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×