Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Call Centre Girl Gang Assault In Auto Case Withdrawal Against Accused Wasim Malik

ऑटो में गैंगरेप में केस वापस की अर्जी, 16 महीने बाद पुलिस को बेगुनाह लगा आरोपी

अब जब दोनों आरोपी पकड़े गए तो सवाल खड़ा हो गया कि जिसे सबसे पहले गिरफ्तार किया, उसका कसूर क्या था।

रवि अटवाल | Last Modified - Apr 17, 2018, 12:47 AM IST

ऑटो में गैंगरेप में केस वापस की अर्जी, 16 महीने बाद पुलिस को बेगुनाह लगा आरोपी

चंडीगढ़.आयरन मार्केट के पास जंगल में एक लड़की के साथ ऑटो में गैंगरेप के करीब 16 महीने बीतने के बाद पुलिस को लग रहा है कि उन्होंने इस केस में किसी बेगुनाह पर केस दर्ज कर दिया था। अब इस केस में सबसे पहले गिरफ्तार हुए आरोपी वसीम मलिक के खिलाफ चल रहे केस को वापस लेने के लिए पुलिस ने होम सेक्रेटरी अनुराग अग्रवाल को एप्लीकेशन भेजी है। पुलिस ने वसीम मलिक की प्रॉसिक्यूशन विदड्रॉ करने के लिए होम सेक्रेटरी से मंजूरी मांगी है। मंजूरी मिलने के बाद केस वापस लेने की अर्जी को कोर्ट में लाया जाएगा।

ये था मामला

3 दिसंबर 2016 को सेक्टर-34 के पिकाडली चौक से कॉल सेंटर में काम करने वाली लड़की ने रात 8 बजे ऑटो हायर किया था। उसे हल्लोमाजरा अपने घर जाना था। ऑटो ड्राइवर और उसके साथ बैठा शख्स लड़की को चाकू दिखाकर आयरन मार्केट सेक्टर-29 के पास जंगलों की तरफ ले गए। वहां दोनों ने चाकू दिखाकर लड़की के साथ बलात्कार किया। इसके बाद आरोपी ट्रिब्यून चौक के पास पीड़िता को छोड़कर फरार हो गए।

ऐसे आया मामले में नया मोड़
मामले में पुलिस ने सबसे पहले सेक्टर-52 के वसीम मलिक को पकड़ा। पीड़िता उस समय ट्रॉमा में थी और उसने वसीम के खिलाफ बयान दे दिए, लेकिन बाद में कह दिया कि वह पूरी तरह श्योर नहीं है। एक साल बीत जाने के बाद केस में नया मोड़ आया और पुलिस ने मोहम्मद इरफान नाम के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

दूसरे रेप केस में गिरफ्तार आरोपी ने कबूला ये गुनाह भी

घटना के करीब एक साल बाद सेक्टर-53 में भी ऑटो में एक लड़की के साथ तीन लोगों ने गैंगरेप किया। इस केस में पुलिस ने मोहम्मद इरफान को भी गिरफ्तार किया। इरफान से जब पूछताछ की तो उसने सेक्टर-29 वाले गैंगरेप को भी कबूल कर लिया।

आरोपी का डीएनए सैंपल भी मैच हो गया

पीड़िता ने इरफान की कोर्ट में पहचान कर ली। इरफान का डीएनए सैंपल भी मैच हो गया। इसके बाद पुलिस ने इरफान की निशानदेही पर एक और आरोपी कमल हसन को दिल्ली से गिरफ्तार किया। पीड़िता ने दोनों आरोपियों (इरफान और कमल हसन) के खिलाफ जज के सामने बयान दे दिए। अब जब दोनों आरोपी पकड़े गए तो सवाल खड़ा हो गया कि जिसे सबसे पहले गिरफ्तार किया, उसका कसूर क्या था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×