चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

रेगिस्तान से चली तेज हवाओं से चंडीगढ़ समेत उत्तर भारत में धूल; एक भी फ्लाइट नहीं हुई ऑपरेट, 29 कैंसिल

- दक्षिण-पूर्वोत्तर के राज्यों में बारिश का कहर, हादसों में 31 की मौत

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 06:45 AM IST
चंडीगढ़ में धूल भरी आंधी चलने चंडीगढ़ में धूल भरी आंधी चलने

चंडीगढ़/नई दिल्ली. चंडीगढ़, पंजाब, हरियाणा और नई दिल्ली में वीरवार सुबह अचानक धूल का गुबार बन गया। मौसम विभाग के मुताबिक ये धुंधलापन राजस्थान से उठी तेज रफ्तार हवाओं की वजह से फैला। वेस्टर्न डिस्टरबेंस की वजह से रेगिस्तानी इलाकों से चली ये हवाएं अपने साथ धूल कण लेकर पंजाब, हरियाणा और नई दिल्ली में दाखिल हुईं। शुक्रवार शाम तक ऐसा ही मौसम बना रहेगा। धूल की वजह से गुरुवार को चंडीगढ़ हवाई अड्‌डे पर विमानों की आवाजाही बंद रही। वहीं दक्षिण और पूर्वाेत्तर भारत में गुरुवार को भारी बारिश और यूपी समेत उत्तर भारत में आंधी तूफान ने तबाही मचाई। इससे हुए हादसों में 31 की मौत हुई है और 35 जख्मी हुए हैं।

पुअर विजिबिलिटी : पहली बार चंडीगढ़ की हवा इतनी खराब हुई, 16-17 जून को बारिश के बाद मिलेगी राहत

आज भी कई फ्लाइट्स रहेंगी कैंसिल

- आसमान में छाई धूल के चलते वीरवार को एयरपोर्ट पर विजिबिलिटी पुअर हो गई। एयरपोर्ट से वीरवार को सभी 29 फ्लाइट्स रद‌्द कर दी गईं। सुबह 6.30 बजे से 11 बजे तक पांच फ्लाइट चंडीगढ़ आईं लेकिन एयर ट्रैफिक कंट्रोल से लैंडिंग की परमिशन न मिलने की वजह से फ्लाइट्स को नई दिल्ली डायवर्ट कर दिया गया।

- इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। एयरलाइंस ने यात्रियों की सुविधा के अनुसार कुछ को बस से दिल्ली भेजा तो कुछ को टिकट का पैसा रिफंड कर दिया। रद‌द की गईं फ्लाइट्स में मुंबई, दिल्ली, पुणे, इंदौर, बेंगलुरू, अहमदाबाद, श्रीनगर, हैदराबाद, कुल्लू, जयपुर, लेह, दुबई, शारजाह की फ्लाइट्स शामिल हैं।

पहली बार चंडीगढ़ की हवा इतनी खराब हुई...

- पहली बार पर्टिकुलेट मैटर्स 10 सबसे मैक्सिमम 322 के लेवल पर

- सर्दियों में भी पीएम का लेवल इतना नहीं पहुंचा

- सर्दियों में भी चंडीगढ़ की हवा इतनी खराब नहीं हुई थी जितनी अब हुई है। हाल ये कि

- पहली बार पर्टिकुलेट मैटर्स-10 का लेवल 322 पर क्यूबिक मीटर तक पहुंच गया।

- एयर क्वालिटी इंडेक्स 272 था। यानि चंडीगढ़ की हवा पुअर कैटेगरी में

- हवा में इतनी मिट्टी है कि आने वाले दो दिन भी चंडीगढ़ में एयर पॉल्यूशन लेवल में ज्यादा फर्क

नहीं पड़ेगा।

- पर्टिकुलेट मैटर्स 10 के अलावा पीएम 2.5 भी मैक्सिमम 101 तक पहुंच गया था।

इसलिए छाई धूल...

- मौसम विभाग के चंडीगढ़ केंद्र के निदेशक सुरेंद्र पाल के मुताबिक राजस्थान के रेगिस्तानी इलाकों में वेस्ट से ईस्ट की ओर यह धूल भरी हवाएं उठी हैं। इसके चलते दिल्ली एनसीआर, हरियाणा और पंजाब के कुछ इलाकों में आसमान धूल का गुब्बार चढ़ा हुआ है।

- इसकी वजह यह है कि पाकिस्तान और मध्य-पूर्व एशिया सहित राजस्थान में लंबे समय से बारिश नहीं हुई है। यहां रेगिस्तान की रेत के अलावा धूल के कण भी तेज हवाओं के साथ उत्तर भारत तक पहुंच रहे हैं।

फ्लाइट्स रहेंगी कैंसिल

इंडिगो

- दिल्ली-चंडीगढ़-दिल्ली
- 6:20 बजे दिल्ली से चंडीगढ़
-7:25 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली
- बेंगलुरू-चंडीगढ़-बेंगलुरू
- 7:10 बजे बेंगलुरू से चंडीगढ़
- 10:05 बजे चंडीगढ़ से बेंगलुरू

जेट एयरवेज
- नई दिल्ली-चंडीगढ़-नई दिल्ली
-5:50 बजे नई दिल्ल से चंडीगढ़
-7:10 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली
-7:40 बजे नई दिल्ली से चंडीगढ़
-8:50 बजे चंडीगढ़ से नई दिल्ली
-8:00 बजे नई दिल्ली से चंडीगढ़
-9:25 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली
-9:50 बजे नई दिल्ली से चंडीगढ़
-11:20 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली

05 फ्लाइट्स चंडीगढ़ का चक्कर लगाने के बाद दिल्ली हुईं डायवर्ट

- 4200 पैसेंजर एयरपोर्ट से राेज करते हैं ट्रैवल

एक कारण यह भी... इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आईएलएस अपग्रेडेशन का काम चल रहा है। ग्राउंड लाइटिंग सिस्टम हबंद है। इस वजह से 1500 मीटर की विजिबिलिटी होने के बावजूद फ्लाइट ऑपरेशन नहीं हो सका।

अभी दो दिन और चलेगी धूलभरी तेज हवाएं

- मौसम विभाग ने कहा- राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अगले दो दिन 25 से 35 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवा चलेगी। पश्चिमोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में शुक्रवार को गरज के साथ आंधी चलने की संभावना है।

अब तक देश में सामान्य से 19% अधिक हुई बारिश

- पिछले 24 घंटों में मानसून ओडिशा, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश और असम और मेघालय के कई हिस्सों में पहुंच गया है। गुरुवार को सबसे ज्यादा 829 मिमी बारिश वेंगुर्ला में हुई। अगले 24 घंटे में मानसून पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, केरल और दक्षिण तटीय कर्नाटक के हिस्सों में अधिक सक्रिय रहेगा।

- दक्षिण-पश्चिम मानसून ने देश में 28 मई को दस्तक दी थी। इन 17 दिनों में सबसे अधिक बारिश कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, असम और त्रिपुरा में देखने को मिली है।

- इसके अलावा तेलंगाना, महाराष्ट्र के कई इलाकों, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में भी अच्छी बारिश हुई गई। देश में अब तक 19% से ज्यादा बारिश हुई है।

X
चंडीगढ़ में धूल भरी आंधी चलने चंडीगढ़ में धूल भरी आंधी चलने
Click to listen..