नकली शराब बनाने वाली फैक्टरी का पर्दाफाश

Chandigarh News - अवैध शराब की फैक्टरी में कार्रवाई करते पुलिस और आबकारी एवं कर विभाग के अधिकारी लालड़ू के सितारपुर रोड के नजदीक...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:20 AM IST
Chandigarh News - fake breweries factory busted
अवैध शराब की फैक्टरी में कार्रवाई करते पुलिस और आबकारी एवं कर विभाग के अधिकारी

लालड़ू के सितारपुर रोड के नजदीक चल रही थी यह फैक्टरी, पुलिस और आबकारी एवं कर विभाग की संयुक्त कार्रवाई



सिटी रिपोर्टर | लालड़ू

पुलिस ने आबकारी एवं कर विभाग के सहयोग से लालड़ू के सितारपुर रोड निकट देसी शराब बनाने वाली एक अवैध फैक्टरी का पर्दाफाश किया है। इसमें डुप्लीकेट देसी शराब बनाई जा रही थी, जो पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश समेत दिल्ली सप्लाई की जाती थी।

विभाग ने यहां बड़ी मात्रा में अवैध शराब समेत शराब बनाने वाला सामान जब्त कर लिया। इसमें मशीनरी से लेकर तैयार व कच्चा माल भी शामिल है। पोलिंग से ठीक एक दिन पहले पकड़ी इस फैक्टरी की शराब का बड़े स्तर पर चुनावों में इस्तेमाल से इंकार नहीं किया जा सकता। फैक्टरी में काम कर रहे तीन से चार कारीगरों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

एसएसपी हरचरण सिंह भुल्लर, कर एवं आबकारी विभाग के एआईजी गुरचैन सिंह धनोआ ने बताया कि बिना बिजली कनेक्शन के जनरेटर की मदद से यह फैक्टरी हफ्ते पहले ही चालू हुई थी। अभी पानी का कनेक्शन का भी नहीं था और बोरिंग मशीन भी मौके पर पाई गई। इससे पहले कि फुल फ्लैज उत्पादन होता, साजो सामान सहित इस िगरोह समेत गोरखधंधे का पर्दाफाश हो गया। गिरोह का मुख्य सरगना हरमिंदर सिंह उर्फ मंगा चड्ढा निवासी पटियाला बताया जा रहा है। उसके साथ इस अवैध धंधे में लवण शर्मा वासी एसएसटी नगर पटियाला और नारायाणगढ़ अंबाला का वीडियो डायरेक्टर जेडी भी हैं। एसएसपी ने बताया कि मुख्य सरगना हरमिंदर पर पहले भी संगरूर जिले में रॉयल स्टैग और ब्लेंडर प्राइड की जाली शराब बनाने के तीन मुकदमे दर्ज हैं। केमिकल्स समेत शराब की सैंपलिंग की जाएगी। वीडियोग्राफी के बीच इन्वेंट्री स्टॉक लेकर उसे सीज किया जा रहा है। कंपनी से बिल बुक, रसीद समेत लेखे जोखे का कोई रिकाॅर्ड नहीं मिला। इस कार्रवाई के दौरान पटियाला से डिप्टी कमिश्नर डिस्टलरीज नरेश दूबे, अभिषेक दुग्गल, एईटीसी परमजीत सिंह व विश्वजीत भंगू भी मौजूद थे।

इस तरह तैयार होती थी अवैध शराब...मौके से 68 परसेंट प्रूफ के 5 ड्रम एक्सट्रा न्युट्रल एल्कोहल(ईएनए) के मिले हैं, जिसमें कैरामल और पानी मिलाकर डिल्यूट किया जाता है। ईएनए में पानी व इसेंस यानी महक मिलाने के बाद वह ब्लेंड के तौर पर इकट्ठा हो रहा था। ऐसा ही ब्लेंड 14 ड्रमों में बरामद हुआ है जिसे बॉटलिंग प्लांट में बोतलों में भरा जाना था। फैक्ट्री में बिजली कनेक्शन न होने पर जनरेटर से काम चलाया जा चल रहा था। फैक्ट्री में करीब 4 से 6 कर्मी काम करते थे। यहां डुप्लीकेट देसी शराब बनाई जा रही थी जो पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश सप्लाई की जाती थी।



छह महीने में नकली शराब बनाने वाली दूसरी फैक्टरी पकड़ी...छह महीने पर अंबाला चंडीगढ़ हाइवे पर विभाग करीब 1500 वर्ग गज में स्थापित दो मंजिला फैक्ट्री में प्लांट एंड मशीनरी समेत करोड़ों रुपए की लागत से प्रोजेक्ट सेमी आॅटोमैटिक प्रोजेक्ट पकड़ा गया था जो सालभर से चल रहा था। इसमें लाखों रुपए की शराब बनाकर बेची जा रही थी। छापे दौरान शराब चेन, 6400 लीटर ब्लेंड वाले दो स्टोरेज टैंक, लगभग 1.20 लाख होलोग्राम आदि सामान बरामद किया था।

पटियाला का हरमिंदर सिंह उर्फ मंगा बताया जा रहा इस अवैध धंधे का आरोपी


X
Chandigarh News - fake breweries factory busted
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना