--Advertisement--

पीजीआई में पकड़ा गया फर्जी डॉक्टर

गले में लटका रखा था स्टेथोस्कोप, हाथ में थी बीपी चेक करने की मशीन और स्टैंप

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2018, 06:22 AM IST
पीआईजी चंडीगढ़(फाइल फोटो) पीआईजी चंडीगढ़(फाइल फोटो)

चंडीगढ़. शनिवार को पीजीआई में फर्जी डॉक्टर बनकर घूम रहा एक शख्स पकड़ा गया है। मामले में देर रात तक पीजीआई चौकी पुलिस पकड़े गए लड़के के खिलाफ एफआईआर रजिस्टर करने में जुटी हुई थी। पकड़े गए लड़के की पहचान हिमाचल के कसुम्पटी के रहने वाले 24 साल के सुमित कुमार के रूप में हुई है। प्राथमिक स्तर पर सुमित ने पुलिस को बताया कि वह अपने दोस्त के लिए कार्ड बनवाने पीजीआई आया था। हालांकि पुलिस अभी लड़के से ये जानने की कोशिश कर रही है कि अगर वो आईकार्ड बनाने आया था तो उसने गले में स्टेथोस्कोप क्यों था और उसके पास बीपी चेक करने की मशीन क्या कर रही थी? वह स्टैंप का क्या करने वाला था?

सुमित एक साल से चंडीगढ़ के सेक्टर-52 में पीजी में रह रहा है। वह 12वीं पास है और नीट की तैयारी कर रहा है। इसके अलावा वह बच्चों को ट्यूशन भी देता है। घटना शनिवार दोपहर की है जब सुमित न्यू ओपीडी में तीसरी मंजिल पर घूम रहा था। इसी दौरान उसे गार्ड ने पकड़ लिया। पूछताछ की गई तो वह न तो अपना कोई डिपार्टमेंट बता पाया और न ही कोई आईडी कार्ड दिखा पाया। इसके बाद तुरंत उसे पुलिस को बुलाकर सौंप दिया गया। इसके बाद पुलिस ने डीडीआर दर्ज कर अस्पताल के सिक्योरिटी स्टॉफ से लिखित में शिकायत ली और देर रात तक मामले में पुलिस जांच में जुटी हुई थी।

आरोपी बोला- मेडिकल लाइन से हूं : सुमित को पकड़ने के बाद चौकी लाया गया। जहां पर उसके पास से एक स्टेथोस्कोप, सुमित नाम की स्टैंप, एक ब्लड प्रेशर चेक करने की मशीन और एक बैग मिला। सुमित का कहना है कि वह मेडिकल लाइन से है तो यह सब चीजें उसके पास होती हैं। पुलिस ने सुमित के घरवालों को भी मामले की जानकारी दी और वो लोग चंडीगढ़ के लिए निकल पड़े हैं।

कैसे पकड़ा गया : सुमित ओपीडी में घूम रहा था। उसने गले में स्टेथोस्कोप लगाया हुआ था और हाथ में ब्लड प्रेशर चेक करने की मशीन थी। लेकिन सुमीत ने सफेद रंग का कोट नहीं पहना हुआ था। इसके बाद सिक्योरिटी गार्ड को उस पर शक हुआ। गार्ड तुरंत सुमित के पास गया। उससे पूछा कि वह कौन से डिपार्टमेंट का डॉक्टर है। इस पर वह कोई संतुष्ट जवाब नहीं दे पाया। इसके बाद उससे आईडी कार्ड मांगा तो वह भी सुमित दिखा नहीं पाया। इसके बाद गार्ड ने अपने ऑफिसर्स को इसकी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस को बुलाया गया।

पहले भी एक बार पकड़ा गया था एक शख्स : ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि पीजीआई से कोई शख्स पकड़ा गया हो। कई साल पहले भी एक व्यक्ति पकड़ा गया था जोकि पीजीआई में लेबर डिपार्टमेंट में डॉक्टर बनकर घूमता था और लड़कियों को चेक करता था।

X
पीआईजी चंडीगढ़(फाइल फोटो)पीआईजी चंडीगढ़(फाइल फोटो)
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..