--Advertisement--

विधानसभाः अभय और करण दलाल ने एक-दूसरे को मारने के लिए निकाला जूता, जमकर बोले अपशब्द

करण दलाल विधानसभा से एक साल के लिए निलंबित।

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 10:41 AM IST

चंडीगढ़। मॉनसून सत्र के अंतिम दिन मंगलवार को विधानसभा में शर्मसार करने वाली घटना हुई। सदन की मर्यादाओं को तोड़ते हुए मुख्य विपक्षी दल इनेलो के नेता अभय चौटाला और कांग्रेस विधायक करण दलाल ने एक-दूसरे के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया। दोनों ने मारने के लिए जूते निकाल लिए। मारपीट के लिए एक-दूसरे की ओर बढ़े और हाथापाई तक हुई। तब कुछ विधायकों और मार्शलों ने बीच-बचाव किया।


यह हंगामा पौने दो घंटे तक चला। बाद में करण दलाल को विधानसभा से एक साल के लिए निलंबित कर दिया गया। वहीं, दोनों के खिलाफ निंदा प्रस्ताव भी पास किया गया। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि सदन की मर्यादाएं तोड़ी गई हैं। यह अच्छी बात नहीं है। गौरतलब है कि विधानसभा में पहले भी एक बार जूता ताना गया था। 2001 में इनेलो नेता भागी राम ने कांग्रेस नेता कैप्टन अजय यादव पर जूता ताना था। तब तत्कालीन सीएम ओमप्रकाश चौटाला ने माफी मांग कर मामला शांत करा दिया था।

25 लाख गरीबों को राशन न मिलने का आरोप लगा करण ने प्रदेश को कलंकित बताया तो सत्तापक्ष ने बना लिया मुद्दा
12:27 से 12:40 बजे तक : कांग्रेस विधायक करण दलाल ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लगाया था। दलाल ने आरोप लगाया कि 25 लाख लोगों को राशन नहीं मिल रहा। केंद्र ने पत्र जारी किया है कि आधार की वजह से किसी का राशन न रोकें। कुछ भी करें, पर प्रदेश कलंकित है कि राशन खा गए। प्रदेश को कलंकित कहने पर कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़, वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु समेत सत्ता पक्ष ने दलाल पर कार्यवाही की मांग की। विधानसभा उपाध्यक्ष संतोष यादव ने दलाल से स्पष्टीकरण मांगा। पर धनखड़ ने कहा कि यह ढाई करोड़ जनता का अपमान है। माफी से काम नहीं चलेगा। हंगामा बढ़ते देख कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित कर दी गई।

करण के बयान पर कैप्टन अभिमन्यु ने अभय की राय मांगी तो मामला मारपीट तक पहुंचा
12:50 से 1:18 बजे तक : कार्यवाही दोबारा शुरू हुई तो विधानसभा अध्यक्ष कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि दलाल शब्द वापस लें। पर कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला भी अपनी राय रखें। चौटाला बोले कि इस भाषा से पूरे प्रदेश को आघात पहुंचा है। ये माफी के लायक नहीं है। प्रस्ताव लाया जाए, हम समर्थन करेंगे। इस पर अभय और दलाल में बहस शुरू हो गई। दोनों जूता निकालकर कुर्सी से उठे और एक-दूसरे की ओर बढ़े। तभी कांग्रेस व इनेलो विधायक और मार्शल बीच-बचाव करने आए। दोनों ने एक-दूसरे को खूब अपशब्द बोले। बाहर निकलकर देखने की धमकी दी। इस पर कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित कर दी।

हुड्‌डा ने माफी मांगी, पर करण सस्पेंड कर दिए
1:28 से 1:45 बजे तक : अभिमन्यु ने करण को 1 वर्ष के लिए निलंबित करने का प्रस्ताव रखा। कांग्रेस के रघुबीर कादयान बोले कि यह आग कैप्टन ने लगाई है। भूपेंद्र हुड्‌डा ने कहा कि बहुमत है तो किसी को भी निकाल दोगे। प्रदेश को कलंकित माना गया तो मैं माफी मांगता हूं। अध्यक्ष ने दलाल को 1 वर्ष के लिए निलंबित किया।

कुलदीप बोले- मामले को कोर्ट लेकर जाएंगे
3 से 5:07 बजे तक : दूसरी सीटिंग में रघुबीर ने पूछा कि करण किस नियम में निलंबित किए हैं। कुलदीप शर्मा ने कहा कि मामला कोर्ट लेकर जाएंगे। इसके बाद कैप्टन अभय-करण के खिलाफ निंदा प्रस्ताव ले आए। कांग्रेसी वॉकआउट कर गए।