जो कहते हैं सीटें नहीं मिली तो इस्तीफा देंगे, बेअदबी करने वालों को सजा नहीं दी तो इस्तीफा सिद्धू देगा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:26 AM IST

Chandigarh News - बठिंडा में शुक्रवार को राजा वड़िंग के हक में चुनाव प्रचार करने आए नवजोत सिंह सिद्धू ने एक तीर से दो निशाने लगाए।...

Chandigarh News - if you do not get seats then you will resign if you do not punish those who are irresponsible then you will resign
बठिंडा में शुक्रवार को राजा वड़िंग के हक में चुनाव प्रचार करने आए नवजोत सिंह सिद्धू ने एक तीर से दो निशाने लगाए। उन्होंने अपनी हर बात में बादलों के साथ-साथ अप्रत्यक्ष तौर पर कैप्टन को भी घेरा। बिना नाम लिए वह बार-बार बेअदबी और चुनाव में मिलकर 75-25 का मैच खेलने की बात कर लोगों को इस बार इन्हें मजा चखाने की बात कहते रहे। बेअदबी पर अपनी ही सरकार के खिलाफ बोलते हुए सिद्धू ने कहा कि सिखों पर जिन्होंने गोलियां चलवाईं उन पर एफआईआर तक नहीं की गई। क्या जस्टिस रणजीत आयोग से एसआईटी बड़ी हो गई। जब जस्टिस रणजीत ने रिपोर्ट में सब कह दिया था तो फिर एफआईआर क्यों नहीं दी। क्योंकि बेअदबी में किसी का 75% तो किसी का 25% हिस्सा है।

सिद्धू ने कहा कि कुछ लोग कहते हैं सीटें न मिलीं तो इस्तीफा दे देंगे, मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि सिद्धू तो पहले ही राज्यसभा छोड़कर बैठा है, बेअदबी करने वालों को सजा न दी तो इस्तीफा सिद्धू देगा। कैप्टन की तरफ से एक दिन पहले बयान दिया था कि पार्टी का सफाया हुआ तो इस्तीफा दे दूंगा। सिद्धू ने कहा कि बादल और उनके साथी 75-25 का मिलकर मैच खेलते हैं, इस बार 23 मई, बीबी गई का स्लोगन लेकर चलो ताकि मैच फिक्स करने वालों की आंखे खुली रह जाएं। उन्होंने कहा कि वोट के लिए जिन्होंने गुरु रोल दिया, उन्हें कभी माफ न करें।

कैप्टन और सिद्धू की तकरार अब बड़ी दरार की ओर

बुधवार को कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की प|ी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू ने उन्हें चंडीगढ़ से टिकट न देने पर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह व पंजाब प्रभारी आशा कुमारी पर उनकी टिकट कटवाने का आरोप लगाया था। इस पर कैप्टन ने वीरवार को कहा कि चंडीगढ़ के लिए सिद्धू की प|ी से बेहतर पवन बंसल हैं। इस पर नवजोत सिंह सिद्धू ने चंडीगढ़ में कहा था कि मेरी प|ी सच बोलने से नहीं डरती। उन्होंने तो रेत और केबल माफिया पर ड्राफ्ट पॉलिसी देने और फैसला सीएम के हाथ होने की भी बात की। इसके बाद शुक्रवार को बठिंडा में प्रचार करने आए सिद्धू ने फिर से अप्रत्यक्ष तौर पर कैप्टन को उनके ही बयानों पर घेरा। इससे पहले भी सिद़धू के पंजाब में प्रचार करने के मामले में कैप्टन ने कहा था कि उनकी पंजाब में जरूरत नहीं तो सिद्धू ने कहा था कि वह बिना बुलाए तो केबल दरबार साहिब ही जाते हैं और कहीं नहीं। 13 मई को सिद्धू ने वोकल कार्ड खराब होने पर दो दिन प्रचार से आराम करने का प्रेस रिलीज जारी करवाई। 14 मई को प्रियंका गांधी की बठिंडा रैली में जब सिद्धू आए तो कह दिया कि वह तो प्रियंका जी के कहने पर आए हैं। इससे सिद्धू और कैप्टन के बीच मतभेद फिर से उजागर हुए थे।


अक्सर कैप्टन पर बादलों से मिल बठिंडा-पटियाला सीट का सौदा करने के आरोप लगते रहे हैं। बुधवार को बठिंडा में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पटियाला कैप्टन की प|ी और बठिंडा सुखबीर की प|ी को देने का सौदा हुआ है। इसलिए कैप्टन बठिंडा में रोड शो में नहीं आए। आप व अन्य दल कैप्टन को घेरते रहे हैं। शुक्रवार को सिद्धू ने भी 75% और 25% हिस्से की बात कर अप्रत्यक्ष तौर पर कैप्टन पर सवाल खड़े किए।

बुधवार को कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की प|ी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू ने उन्हें चंडीगढ़ से टिकट न देने पर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह व पंजाब प्रभारी आशा कुमारी पर उनकी टिकट कटवाने का आरोप लगाया था। इस पर कैप्टन ने वीरवार को कहा कि चंडीगढ़ के लिए सिद्धू की प|ी से बेहतर पवन बंसल हैं। इस पर नवजोत सिंह सिद्धू ने चंडीगढ़ में कहा था कि मेरी प|ी सच बोलने से नहीं डरती। उन्होंने तो रेत और केबल माफिया पर ड्राफ्ट पॉलिसी देने और फैसला सीएम के हाथ होने की भी बात की। इसके बाद शुक्रवार को बठिंडा में प्रचार करने आए सिद्धू ने फिर से अप्रत्यक्ष तौर पर कैप्टन को उनके ही बयानों पर घेरा। इससे पहले भी सिद़धू के पंजाब में प्रचार करने के मामले में कैप्टन ने कहा था कि उनकी पंजाब में जरूरत नहीं तो सिद्धू ने कहा था कि वह बिना बुलाए तो केबल दरबार साहिब ही जाते हैं और कहीं नहीं। 13 मई को सिद्धू ने वोकल कार्ड खराब होने पर दो दिन प्रचार से आराम करने का प्रेस रिलीज जारी करवाई। 14 मई को प्रियंका गांधी की बठिंडा रैली में जब सिद्धू आए तो कह दिया कि वह तो प्रियंका जी के कहने पर आए हैं। इससे सिद्धू और कैप्टन के बीच मतभेद फिर से उजागर हुए थे।

17 मई को भास्कर में छपी खबर।

बोले- यह लोग इस बार चुनाव में 75-25 का मैच खेल रहे हैं

आशा कुमारी बोलीं- विवादित बयान देने से बचें नेता

चुनाव में महंगा पड़ सकता है सिद्धू का बड़बाेलापन

सुखबीर सिंह बाजवा, चंडीगढ़| नवजाेत सिंह सिद्धू के बड़बाेलेपन से कांग्रेस काे डर लगने लगा है। पार्टी का मानना है कि वाेटिंग से पहले सिद्धू की बयानबाजी से नुकसान हाे सकता है। पार्टी की पंजाब मामलों की प्रभारी आशा कुमारी का कहना है कि चुनावी माहौल में सभी नेता किसी भी तरह का विवादित बयान देने से बचें। सिद्धू काे यह नसीहत शुक्रवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मीटिंग के बाद दी गई। सिद्धू के कैप्टन विरोधी बयानों से पार्टी के कई नेता नाराज हैं। इन नेताओं का कहना है कि वो चुनाव के बाद इस मुद्दे को बड़े स्तर पर उठाएंगे। फिलहाल चुनाव नतीजों तक कुछ कहना ठीक नहीं होगा।

चुनाव के नतीजे आने के बाद मीटिंग में उठेगा मुद्दा...

चुनाव नतीजों के बाद मई के अंतिम हफ्ते में चंडीगढ़ में पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी की मीटिंग होगी। इसमें पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे। इस मीटिंग में कई बड़े मुद्दों पर बातचीत होगी। मीटिंग में सिद्धू के बड़बोलेपन का मुद्दा भी उठाया जाएगा। चुनाव के दौरान नजर आई गुटबाजी का मुद्दा उठ सकता है। सिद्धू गुट के कुछ नेता भी इस मीटिंग में सामने आ सकते हैं।

विवादाें से सिद्धू का नाता...

प|ी को चंडीगढ़ से टिकट न मिलने, मोगा रैली में न बोलने देने और पंजाब के चुनाव प्रचार में मौका न मिलने जैसे मुद्दों के अलावा सिद्धू समय-समय पर कैप्टन पर हमला करते रहे हैं। इसे लेकर पार्टी में अंदरखाते सिद्धू का विराेध बढ़ रहा है।

Chandigarh News - if you do not get seats then you will resign if you do not punish those who are irresponsible then you will resign
X
Chandigarh News - if you do not get seats then you will resign if you do not punish those who are irresponsible then you will resign
Chandigarh News - if you do not get seats then you will resign if you do not punish those who are irresponsible then you will resign
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543