Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» 17000 किलोमीटर सफर तय कर नंगल पहुंची शहीद स्वाभिमान यात्रा

17000 किलोमीटर सफर तय कर नंगल पहुंची शहीद स्वाभिमान यात्रा

भास्कर संवाददाता | नंगल सिटी विश्व ऐतिहासिक शहीद स्वाभिमान यात्रा का नंगल पहुंचने पर लोगों ने स्वागत किया।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 12, 2018, 02:00 AM IST

17000 किलोमीटर सफर तय कर नंगल पहुंची शहीद स्वाभिमान यात्रा
भास्कर संवाददाता | नंगल सिटी

विश्व ऐतिहासिक शहीद स्वाभिमान यात्रा का नंगल पहुंचने पर लोगों ने स्वागत किया। यात्रा का नेतृत्व कर रहे संस्थापक अध्यक्ष सुरिंदर सिंह ने बताया कि 23 मार्च को इंडिया गेट से भारतीय थल सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के प्रतिनिधि मेजर जनरल अशोक नरूला ने झंडी दिखाकर इस यात्रा को रवाना किया था। उन्होंने बताया कि स्वाभिमान देश का संगठन द्वारा आयोजित किया 25000 किलोमीटर लंबी यात्रा दिल्ली से आरंभ होकर 29 राज्यों से होकर वापस दिल्ली लौटेगी। 90 दिन तक चलने वाली यात्रा में आज लगभग 17000 किलोमीटर का सफर तय करके 24 राज्य तथा 80 दिनों की यात्रा संपन्न कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि उनकी यात्रा राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पोंडिचेरी, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, झारखंड, वेस्ट बंगाल, उत्तर पूर्वी राज्य, बिहार, उत्तर प्रदेश से होते हुए सोमवार को पंजाब के नंगल में प्रवेश की है।

उन्होंने बताया कि देश में शहीद-ए-आजम भगत सिंह की सबसे विशाल प्रतिमा की स्थापना करना उनका एक बड़ा लक्ष्य है। इसके लिए इस यात्रा के तहत हर राज्य से मिट्टी लाई जाएगी। वहीं विशाल प्रतिमा के साथ ही शहीद स्मारक और शहीद संस्थान की स्थापना भी की जाएगी जहां आने वाले लोगों को देश के स्वतंत्रता संग्राम से लेकर देश के लिए प्राण न्योछावर करने वाले शहीदों के बारे में विशेषज्ञ द्वारा जानकारी दी जाएगी। उनका संगठन धर्म, जाति, वर्ग, भेष, आदि से ऊपर उठकर केवल राष्ट्र के शहीदों और वीर जवानों को समर्पित है। यह संगठन देश के उन वीर शहीदों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अलख जगाने का काम कर रही है जिन्होंने देश के शहीदों के प्रति लोगों को जागरूक करना है। इस मौके पर सतपाल कालिया, जेके दत्ता, पीसी कक्कड़, एमके अग्निहोत्री, सतनाम सिंह, डॉ. राजेश, थाना इंचार्ज श्री आनंदपुर साहिब पवन चौधरी, आरएस राणा, ऊषा कालिया, एमएस जैसवाल, दर्शन लाल आदि ने यात्रा का स्वागत किया।

विश्व ऐतिहासिक शहीद स्वाभिमान यात्रा का नंगल पहुंचने पर स्वागत किया गया।

शहीद-ए-आजम को राष्ट्र पुत्र की उपाधि दिलाना लक्ष्य : सुरिंदर सिंह

सुरिंदर सिंह ने बताया कि उनके संस्था की मुख्य मांगों में शहीदे आजम भगत सिंह को राष्ट्र पुत्र की उपाधि देकर राष्ट्र के सभी शहीदों को सर्वोच्च सम्मान देना, राष्ट्र की रक्षा के लिए शहीद होने वाले सैनिकों, अर्द्ध-सैनिकों और पुलिसकर्मियों को समान रूप से सम्मान देना, उनके परिजनों को समान रुप से सारी सुविधाएं देना, शहीद परिवारों के लिए शहीद स्वाभिमान कार्ड भी बनाना जिस कार्ड के माध्यम से शहीद परिवारों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके, सेना के वेतन को कर मुक्त करना, सेना के शहीद परिवारों के लिए अलग से एक आयोग की स्थापना की जाए जहां शहीद परिवारों के सभी समस्याओं को जल्द से जल्द निवारण हो, सेवानिवृत्त के बाद सैनिकों के लिए रोजगार के उचित अवसरों को बढ़ाना, वीर शहीदों की जीवनी को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करना है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×