--Advertisement--

निजी फंड से राणा केपी ने 1.25 करोड़ की ग्रांटों के चेक बांटे

भास्कर संवाददाता | आनंदपुर साहिब विकास की पटड़ी से उतरी राज्य की गाड़ी को फिर से पटड़ी पर लाने के लिए मौजूदा...

Danik Bhaskar | Jun 14, 2018, 02:00 AM IST
भास्कर संवाददाता | आनंदपुर साहिब

विकास की पटड़ी से उतरी राज्य की गाड़ी को फिर से पटड़ी पर लाने के लिए मौजूदा कांग्रेस की कैप्टन सरकार द्वारा जो गत 1 वर्ष में जो प्रयास किए गए हैं, वे सराहनीय हैं। उनसे गांवों तथा शहरों का विकास शुरू हो गया है। सरकार ने जरूरतमंद लोगों प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए उनका हाथ थामने की भी शुरुआत की है। यह शब्द पंजाब विधान सभा स्पीकर राणा कंवरपाल सिंह ने आनंदपुर साहिब में पंचायतों, यूथ क्लबों, महिला मंडलों, शैक्षिक विभागों, सामाजिक व धार्मिक संगठनों को 1.25 करोड़ रुपए की ग्रांटें देने समय कहे।

इस मौके पर पत्रकारों से बात करते उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार का एक ही प्रयास है कि जो लोग जरूरतमंद हैं तथा वह किसी न किसी भयानक बीमारी का शिकार हैं और अपनी माली हालत कमजोर होने के कारण अपना ईलाज करवाने से असमर्थ हैं, की सरकार की तरफ से मदद की जाए। इसके चलते दर्जनों जरूरतमंद लोगों को ईलाज के लिए 50 हजार रुपए की माली सहायता दी गई है।

चेक बांटते स्पीकर राणा केपी सिंह (दाएं से दूसरे) व अन्य।

क्षेत्र का होगा सर्वपक्षीय विकास : राणा

स्पीकर राणा केपी सिंह ने कहा कि गांवों तथा शहरों के विकास के साथ-साथ गांवों का माहौल सार्थक रखना भी हमारी जिम्मेदारी है। इसलिए हम राज्य के लोगों से अपील करते हैं कि वह गुटबाजी से हटकर विकास व तरक्की के लिए प्रय| करें। उन्होंने वादा किया कि आनंदपुर साहिब के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र का सर्वपक्षीय विकास करवाया जाएगा। इस मौके पर रमेश चंद्र दसग्राईं, कमलदेव जोशी, नगर कौंसिल अध्यक्ष हरजीत सिंह जीता, नरेंद्र सैनी, कमलदीप सैनी, प्रेम सिंह सिद्दू, सूरत सिंह, राम कुमार, प्रेम सिंह बासोवाल, विजय कुमार गरचा, हरकीरत सिंह, प्रेम लत्ता सूरेवाल, लक्की कपिला, संजीवन राणा, राम सिंह राणा तथा अश्वनी आजाद व अन्य गणमान्य उपस्थित थे।