चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

गोष्ठी में सुनाई मां को समर्पित कविता ‘प्यार का बंधन’

चंडीगढ़ | साहित्यिक विचार मंच की मंथली मीटिंग सेक्टर-46 के उत्तम रेस्टोरेंट में हुई। जिसकी अध्यक्षता साहित्यकार...

Danik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:05 AM IST
चंडीगढ़ | साहित्यिक विचार मंच की मंथली मीटिंग सेक्टर-46 के उत्तम रेस्टोरेंट में हुई। जिसकी अध्यक्षता साहित्यकार कैलाश आहलूवालिया ने की। इस मौके पर प्रेम विज ने व्यंग्य कविताएं सुनाई। इसके बाद बलबीर तन्हा ने हिंदी व पंजाबी में कविताएं और गजल- ‘जिसने गुजार दी है मिसालों में जिंदगी’ पेश की। केके नंदा अश्क ने गजल सुनाई। इसके अलावा एक लघु कथा आइस क्रीम भी सुनाई। विजय कपूर ने कविताएं - धड़ल्ले से, गजब कैसे हो जाते हो, बुद्धू सा, चेतना के स्तर पर कविताएं सुनाईं। सुभाष शर्मा ने ‘मैं संविधान हां’ व्यंग्य सुनाया। इसके अलावा विजय कपूर की 3 कविताओं का हिंदी अनुवाद भी सुनाया। अमरजीत अमर ने पंजाबी गजल के नए संग्रह ‘रिशमां दा बूहा’ में से कुछ गजलें सुनाईं। सतीश पापुलर ने हास्य रचनाएं पढ़ी।

Click to listen..