चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

खुद में सुधार का प्रयास करो : रसिक महाराज

चंडीगढ़| चाहे गलती कोई भी हो और किसी की भी हो मगर दूसरों को दोष देना, यही आज इंसान की फितरत बन गई है। इंसान गिरता है तो...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 02:05 AM IST
चंडीगढ़| चाहे गलती कोई भी हो और किसी की भी हो मगर दूसरों को दोष देना, यही आज इंसान की फितरत बन गई है। इंसान गिरता है तो पत्थर को दोष देता है, डूबता है तो पानी को दोष देता है और कुछ नहीं कर पाता तो क़िस्मत को दोष देता है। दूसरों को दोष देने का अर्थ ही मात्र इतना सा है कि स्वयं की गलती को स्वीकार करने का सामर्थ्य न रख पाना। ये प्रवचन नृसिंह पीठाधीश्वर स्वामी रसिक महाराज ने पुरुषोतम मास के आखिरी सोमवार को बटेश्वर महादेव मंदिर हल्लोमाजरा में दिए।

X
Click to listen..