--Advertisement--

श्री राधा मंदिर में श्रीमद् भागवत कथा

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 02:05 AM IST

News - चंडीगढ़| कंस अपनी बहन को अत्यधिक प्यार करता था । जब कंस अपनी बहन की डोली की विदाई कर रहा था तो आकाशवाणी हुई थी कि उसकी...

श्री राधा मंदिर में श्रीमद् भागवत कथा
चंडीगढ़| कंस अपनी बहन को अत्यधिक प्यार करता था । जब कंस अपनी बहन की डोली की विदाई कर रहा था तो आकाशवाणी हुई थी कि उसकी आठवीं संतान ही तुम्हारा वध करेगी। जो बाद में जाकर सत्य हुआ। देवकी माता को जब सातवां गर्भ का आभास हुआ था। वह कभी गर्भवती नहीं हुई थी। जब कोई आत्मा गर्भ में आवास करती है तो उसे गर्भ आभास कहते हैं। योगमाया को भगवान श्रीकृष्ण ने कहा था तुम्हें यशोदा के यहां प्रकट होना होगा। मैं भी गौकुल में प्रकट होऊंगा। भगवान श्रीकृष्ण जी का जन्म कभी नहीं हुआ था वह प्रकट हुए थे। ये प्रवचन विदुषी जीवानुगा शैलवासिनी देवी दासी ने श्रीमद् भागवत कथा में दिए। इस कथा का आयोजन सेक्टर-44 के श्री राधा मंदिर में किया जा रहा है। संकीर्तन मंडली की अध्यक्ष कमल शर्मा ने बताया कि कथा 13 जून तक चलेगी।

X
श्री राधा मंदिर में श्रीमद् भागवत कथा
Astrology

Recommended

Click to listen..