• Home
  • Union Territory News
  • Chandigarh News
  • News
  • नयागांव में ग्रुपिज्म को लेकर हुए मैडी के मर्डर में तीन आरोपी रिवाॅल्वर व कारतूस सहित अरेस्ट
--Advertisement--

नयागांव में ग्रुपिज्म को लेकर हुए मैडी के मर्डर में तीन आरोपी रिवाॅल्वर व कारतूस सहित अरेस्ट

नयागांव जनता कॉलोनी में बीते वीरवार को हुए सौरव उर्फ मैडी के मर्डर मेंं पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 02:05 AM IST
नयागांव जनता कॉलोनी में बीते वीरवार को हुए सौरव उर्फ मैडी के मर्डर मेंं पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपियों की पहचान नयागांव के रहने वाले ऋषभ उर्फ ऊदू, अरुण गागट उर्फ नोनी, आकाश सिंह के तौर पर हुई है। पुलिस ने ऊदू और गागट को खुड्डा लाहौरा से और आकाश को नाडा पुल से काबू किया है। आरोपियों से कत्ल में इस्तेमाल अवैध .32 बोर का रिवॉल्वर और 2 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। इनहें मंगलवार को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। एसएसपी दफ्तर में एसपी सिटी-1 जगजीत सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी, यहां डीएसपी सिटी-1 आलम विजय और नयागांव एसएचओ भगवंत सिंह रायड़ भी मौजूद थे।

ये सभी पीजीआई में कांट्रैक्ट बेस पर करते हैं नौकरी : एसपी ने बताया कि यह ये सभी आरोपी पीजीआई में कांट्रेक्ट बेस पर नौकरी करते हैं और सभी सफाई कर्मचारी हैं। दोनों गैंग के मेंबर्स पर नयागांव में काफी केस दर्ज हैं। इनकी पुरानी रंजिश पीजीआई से चलती आ रही है। देसी कट्टा किसका है इसका पता नहीं लगा, क्योंकि मास्टर माइंड फौजी फरार है। उसके पकड़े जाने पर ही कहानी साफ होगी। बहरहाल पकड़े आरोपियों ने पूछताछ में यही बताया कि फौजी ने ही पहले गोली चलाई थी। इस मामले में पहले पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था और एसआईटी बनाई थी। जगजीत सिंह ने कहा कि पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ के बाद अन्य गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

तीन दिन पहले ग्रुपिज्म को लेकर हुए झगड़े में दी थी जान से मारने की धमकी

मैडी और आकाश दोनों हिस्ट्रीशीटर... एसपी सिटी जगजीत सिंह ने बताया कि (मृतक) मैडी और आकाश दोनों ही हिस्ट्री शीटर हैं। आकाश के खिलाफ चंडीगढ़ और आस-पास स्नैचिंग और मारपीट के और मैडी के खिलाफ कई थानों में लूटपाट, चोरी और मारपीट के केस दर्ज हैं। दोनों का अपना-अपना ग्रुप बना हुआ था। इस कारण उनमें अकसर झगड़ा रहता था। इसी कारण यह मर्डर हुआ है। एसपी ने बताया कि मर्डर के तीन दिनों पहले भी आकाश और मैडी में झगड़ा हुआ था। बाकायदा आकाश की मां ने पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत भी दी थी। वहीं आरोपी मैडी के खिलाफ नयागांव में 302 का केस है, जिसमें वह जमानत पर है।

मुख्य आरोपी फौजी आर्मी से भी भगौड़ा एसपी सिटी-1 जगजीत सिंह झल्ला ने बताया कि इस मर्डर में मुख्य आरोपी जगमान सिंह उर्फ मान उर्फ छोटा फौजी अभी गिरफ्त से बाहर है। इन्वेस्टिगेशन में सामने आया कि फौजी आर्मी में नौकरी करता था, वहां से भी उसे भगौड़ा करार दिया गया है, जोकि बाद में पीजीआई में टैक्सी ड्राइवर लगा था।