--Advertisement--

नाटकों में कॉमेडी के रंगों से दिखाई समाज की कहानी

चंडीगढ़ |कभी कभी छोटी सी बात को यूं लंबा कर दिया जाता है जिसकी वजह से उस बात का बतंगड़ बन जाता है। असल में होता कुछ भी...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 02:10 AM IST
चंडीगढ़ |कभी कभी छोटी सी बात को यूं लंबा कर दिया जाता है जिसकी वजह से उस बात का बतंगड़ बन जाता है। असल में होता कुछ भी नहीं। इसी तथ्य पर रोशनी डाली चंडीगढ़ आर्ट्स थिएटर के रंगकर्मियों ने। मंगलवार शाम को टैगोर थिएटर के मिनी ऑडिटोरियम में दो नाटक खेले गए। पहला, बलवंत गार्गी का लिखा नाटक राई का पहाड़ था। वहीं दूसरा, जयप्रकाश सिंह का लिखा नाटक दरोगा जी चोरी हो गई रहा। दोनों नाटक को रंजीत रॉय ने डायरेक्ट किया। वहीं इनमें एक्ट किया चंडीगढ़ आर्ट थिएटर के कलाकारों ने। दोनों नाटक रियलिस्टिक शैली थी। इनसे इमोशन, ड्रामा, काॅमेडी के रंगों के जरिए सोसाइटी की कहानी को बयां किया गया। फोटो: जसविंदर सिंह