Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» 6 राज्यों में तूफान, 7 में बारिश-बाढ़; 31 मौतें

6 राज्यों में तूफान, 7 में बारिश-बाढ़; 31 मौतें

नई दिल्ली|देश के 13 राज्यों में अलग-अलग मौसम ने भारी तबाही मचाई है। अभी तक उत्तर भारत के राज्यों मानसून नहीं पहुंचा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 15, 2018, 02:10 AM IST

  • 6 राज्यों में तूफान, 7 में बारिश-बाढ़; 31 मौतें
    +1और स्लाइड देखें
    नई दिल्ली|देश के 13 राज्यों में अलग-अलग मौसम ने भारी तबाही मचाई है। अभी तक उत्तर भारत के राज्यों मानसून नहीं पहुंचा है। पर आंधी-तूफान से काफी नुकसान हुआ है। गुरुवार को पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली और राजस्थान में आंधी-तूफान की वजह से कई इलाके धूल की चादर में ढक गए। यूपी में बुधवार रात तूफान आने से 20 लोगों की जान चली गई। उधर, नॉर्थ-ईस्ट के 4 राज्यों में बाढ़ से तीन लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। कर्नाटक और केरल में भी बाढ़ के हालात हैं। मुंबई में बारिश के चलते नेवी को राहत और बचाव के लिए अलर्ट किया गया है।

    दिल्ली |धुंध छाई, 17 तक निर्माण पर रोक

    राजस्थान में धूल भरी अंधी का असर गुरुवार को भी दिल्ली-एनसीआर में देखने को मिला। इससे विजिबिलिटी भी प्रभावित रही। दिल्ली के कई इलाकों में पीएम-10 का स्तर 900 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर से ज्यादा रहा। सबसे ज्यादा पीएम 10 का स्तर 1297 रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसीआर में अगले तीन दिन तक मौसम ऐसा ही बने रहने की आशंका जताई है। दिल्ली में खराब मौसम को देखते हुए एलजी ने सड़कों पर पानी के छिड़काव और 17 जून तक सभी तरह के निर्माण कार्य पर रोक लगाने की बात कही है।

    यूपी, पंजाब, राजस्थान, चंडीगढ़, दिल्ली में तूफान; यूपी में 20 मौतें

    यूपी |75 किमी की रफ्तार से हवा चली

    उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बुधवार रात तेज आंधी-बारिश से 20 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 35 लोग घायल हो गए। सबसे ज्यादा छह मौतें सीतापुर में हुई हैं। कई जगह तेज आंधी की वजह से पेड़ गिरने, तो कहीं दीवार गिरने की वजह से हादसा हुआ। मौसम विभाग के अनुसार राज्य में करीब 75 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलीं। मौसम विभाग ने पूर्वी और मध्य यूपी के जिलों में लोगों को आने वाले दिनों में घरों से बाहर नहीं निकलने की हिदायत दी है। यहां एक-दो दिन तक तेज तूफान और बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

    नॉर्थ-ईस्ट और केरल में बारिश, बाढ़ के चलते 11 लोगों की मौत

    नॉर्थ-ईस्ट |त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर, असम में बाढ़ के हालात, तीन लाख लोगों पर असर

    नॉर्थ-ईस्ट में 48 घंटे से हो रही भारी बारिश से त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर, असम में भी बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। त्रिपुरा में चार और मणिपुर में दो लोगों की जान गई है। भूस्खलन से यातायात भी प्रभावित है।

    त्रिपुरा: सीएम बिप्लब देब ने कई इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने केंद्र से सेना व एनडीआरएफ भेजने के लिए कहा है। 500 परिवारों को कैंपों में भेजा गया है।

    असम: राज्य में लमडिंग-बादरपुर हिल सेक्शन में भारी बारिश और भूस्खलन होने से 4 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया। 6 जिलों के 222 गांव सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

    मणिपुर: इम्फाल, बिष्णुपुर बाढ़ में डूबे हैं। 3500 परिवारों को 89 कैंपों में भेजा गया है।

    मिजोरम: बुधवार से ही तेज बारिश जारी है। बारिश और भूस्खलन से राज्य के 3 जिलों का संपर्क देश से कट गया है।

    मणिपुर में मुख्य सचिव इस तरह ऑफिस पहुंचे

    तस्वीर केरल के कोझिकोड की है। यहां भूस्खलन से 5 मौतें हुई हैं।

    मुंबई में भी भारी बारिश, नेवी को राहत-बचाव के लिए अलर्ट किया

    अब तक देश में सामान्य से 19% अधिक हुई बारिश

    पिछले 24 घंटों में मानसून ओडिशा, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश और असम और मेघालय के कई हिस्सों में पहुंच गया है। गुरुवार को सबसे ज्यादा 829 मिमी बारिश वेंगुर्ला में हुई। अगले 24 घंटे में मानसून पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, केरल और दक्षिण तटीय कर्नाटक के हिस्सों में अधिक सक्रिय रहेगा। दक्षिण-पश्चिम मानसून ने देश में 28 मई को दस्तक दी थी। इन 17 दिनों में सबसे अधिक बारिश कोंकण गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, असम और त्रिपुरा में देखने को मिली है। इसके अलावा तेलंगाना, महाराष्ट्र के कई इलाकों, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में भी अच्छी बारिश हुई गई। देश में अब तक 19% से ज्यादा बारिश हुई है।

    केरल

    भूस्खलन से पांच की मौत, 10 लोग लापता

    केरल में मानसून जमकर बरस रहा है। राज्य के कोझिकोड, मल्लपुरम, वायानाड, पालाक्कड, कासरगोड और कुन्नूर में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। इन जिलों में स्कूल और कॉलेजों में छुट्‌टी कर दी गई है। कोझिकोड के एक गांव में भूस्खलन से 5 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 10 से ज्यादा लोग लापता हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में एनडीआरएफ और राज्य की आपदा राहत टीम को तैनात किया गया है। केरल के सीएम ने मुख्य सचिव और जिला कलेक्टरों को तत्काल राहत और बचाव के आदेश दिए हैं। मई से अब तक बारिश से जुड़ी घटनाओं में 27 लोग मारे जा चुके हैं।

  • 6 राज्यों में तूफान, 7 में बारिश-बाढ़; 31 मौतें
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×