Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» लूट केस में किसी दूसरे का नंबर डाल निकलवाई कॉल डिटेल, एसपी मराड़ की बेल एप्लीकेशन खारिज

लूट केस में किसी दूसरे का नंबर डाल निकलवाई कॉल डिटेल, एसपी मराड़ की बेल एप्लीकेशन खारिज

मनोज जोशी/विशाल नागपाल | मोहाली/खरड़ पीपीएस ऑफिसर राजबलविंदर सिंह मराड़ को खरड़ का डीएसपी रहते हुए 2014 में एक...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:05 AM IST

लूट केस में किसी दूसरे का नंबर डाल निकलवाई कॉल डिटेल, एसपी मराड़ की बेल एप्लीकेशन खारिज
मनोज जोशी/विशाल नागपाल | मोहाली/खरड़

पीपीएस ऑफिसर राजबलविंदर सिंह मराड़ को खरड़ का डीएसपी रहते हुए 2014 में एक मैट्रिमोनियल डिस्प्यूट केस में जानकार की मदद करना महंगा पड़ गया है। फिरोजपुर निवासी बिजनेसमैन वरिंदरपाल सिंह की लड़की का शादी को लेकर विवाद था। आरोप थे कि मराड़ ने लड़की के पिता के मोबाइल का नंबर एक लूट केस में दर्ज करवाया और उसकी कॉल डिटेल लड़के वालों को दे दी। केस फिरोजपुर में चल रहा था, लेकिन मदद खरड़ में बैठे डीएसपी मराड़ ने की। लड़की के पिता वरिंदरपाल सिंह ने लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी, जिसके आधार पर कोर्ट ने एसआईटी बनाई।

जांच में पाया गया कि खरड़ डीएसपी ऑफिस में गलत तरीके से कॉल डिटेल निकलवाई गई। इसके बाद तत्कालीन डीएसपी खरड़ तथा अब एसपी कमांडो बटालियन राजबलविंदर सिंह मराड़, उनके एक साथी सेक्टर-10 चंडीगढ़ के तरणदीप सिंह का नाम एफआईआर में शामिल किया गया है। एफआईआर के दर्ज होने के बाद मराड़ ने सेशंस कोर्ट में एंट्रीसिपेट्री बेल एप्लीकेशन लगाई थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया है। पुलिस मराड़ की गिरफ्तारी किसी भी समय कर सकती है।

लूट के केस में शामिल किया बिजनेसमैन का नंबर: कॉल डिटेल निकलवाने की जानकारी जब िबजनेसमैन को हुई तो उन्होंने इसकी शिकायत की और जवाब मांगा। डीएसपी ऑफिस ने जवाब दिया कि इस मोबाइल नंबर की डिटेल की जरूरत खरड़ थाना में उन दिनों दर्ज हुए एक लूट के मामले में है।

राजबलविंदर सिंह मराड़

एसपी

दहेज उत्पीड़न अौर हत्या के केस में आरोपी की मदद की

2014 में डीएसपी राजबलविंदर सिंह मराड़ ने िफरोजपुर निवासी एक िबजनेसमैन वरिंदरपाल सिंह के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल इसलिए िनकलवाई थी, ताकि वह अपने एक करीबी की मदद कर सके। कॉल डिटेल के जरिए वे िबजनैसमैन की िनजी जानकारी हासिल करना चाहते थे। इस अधिकारी का करीबी मुक्तसर, पंजाब का रहने वाला व्यक्ति तरणदीप सिंह उन दिनों दहेज उत्पीड़न व हत्या के प्रयास के दो विभिन्न मामलों में फंसा हुआ था। उसे बचाने के लिए इस अधिकारी ने अपने पद का दुरुपयोग किया। यह भी पता चला है कि उस समय के खरड़ के डीएसपी राज बलविंदर सिंह मराड़ की होमटाऊन भी मुक्तसर ही थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×