चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

शहरी सरकार के चुनाव में विधायक-मंत्रियों की साख दांव पर

प्रदेश में 13 मई को 18 शहरी सरकारों के होने वाले चुनावों में कई दिग्गजों की साख दांव पर है। इनमें मंत्री से लेकर भाजपा...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:05 AM IST
प्रदेश में 13 मई को 18 शहरी सरकारों के होने वाले चुनावों में कई दिग्गजों की साख दांव पर है। इनमें मंत्री से लेकर भाजपा और विपक्ष के विधायकों के लेखे-जोखे का हिसाब भी जनता करेगी, क्योंकि जिन नगर निकायों के चुनाव होने हैं, वह तीनों मुख्य दल भाजपा, कांग्रेस और इनेलो के विधायकों के विधानसभा क्षेत्रों में आ रहे हैं। पिछले चुनाव में 11 नगर निकायों के अध्यक्ष भाजपा और 5 कांग्रेस समर्थित अध्यक्ष बने थे। तीन नगर निकायों के चेयरमैन निर्दलीय रहे हैं। जून में नगर निगमों के चुनाव प्रस्तावित हैं।

ऐसे में भाजपा अपनी सरकार के साढ़े तीन साल के कार्यों पर जनता से मुहर लगवाने के लिए इन 18 नगर पालिकाओं में होने वाले चुनाव में पूरी ताकत झोंकेगी, वहीं कांग्रेस-इनेलो पूरी जोरआजमाइश कर सरकार के खिलाफ हवा बनाने की पूरी कोशिश करेंगी। कुल मिलाकरइन चुनावों में मुकाबला रोचक होने वाला है और इसमें सभी जीत के लिए पूरा जोर लगाएंगे।

X
Click to listen..