Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» माइनिंग अफसर सिमरप्रीत के खिलाफ कर्मचािरयों की शिकायत, मंत्री ने प्रमुख सचिव से मांगी रिपोर्ट

माइनिंग अफसर सिमरप्रीत के खिलाफ कर्मचािरयों की शिकायत, मंत्री ने प्रमुख सचिव से मांगी रिपोर्ट

पंजाब सरकार का जहां अवैध माइनिंग खत्म करने पर जोर है, वहीं माइनिंग विभाग के अफसर इसे लेकर आपस में उलझ रहे हैं। इनमें...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 10, 2018, 03:05 AM IST

पंजाब सरकार का जहां अवैध माइनिंग खत्म करने पर जोर है, वहीं माइनिंग विभाग के अफसर इसे लेकर आपस में उलझ रहे हैं। इनमें प्रोजेक्ट मैनेजर कम माइनिंग अफसर और बीएलईओ से लेकर माइनिंग आॅफिसर तक एक-दूसरे पर माइनिंग माफिया से मिले होने और करप्शन तक के आरोप लगा रहे हैं। मोहाली जिले में माइनिंग अफसर सिमरप्रीत कौर पर उनके अपने ही बीएलईओ बलजीत सिंह और प्रोजेक्ट मैनेजर कम माइनिंग अफसर रमनदीप सिंह ने संगीन आरोप लगाए हैं। अफसरों द्वारा ऐसे आरोप लगाने का मामला इंडस्ट्री मिनिस्टर सुंदर शाम अरोड़ा के पास पहुंच गया है। विभाग के कई अफसरों और कर्मचारियों ने सिमरप्रीत के खिलाफ मंत्री से शिकायत भी की है। इंडस्ट्री मिनिस्टर अरोड़ा का कहना है कि विभाग के प्रमुख सचिव से रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट आने के बाद अगली कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट आने के बाद होगी कार्रवाई:अरोड़ा

आरोप-बिना अधिकार के जारी कर दिए परमिट

प्रोजेक्ट मैनेजर कम माइनिंग आॅफिसर रमनदीप सिंह ने एयरपोर्ट रोड पर मिट्टी से भरे टिप्परों को रोककर दस्तावेजों की जांच की तो मिट्टी के परमिटों पर किए साइन पर उन्हें शक हुआ। उन्होंने इन का मिलान दफ्तर के रिकाॅर्ड से किया तो वो साइन माइनिंग आॅफिसर सिमरप्रीत कौर के थे। उन्होंने इन टिप्परों को मिट्टी ले जाने के परमिट जारी कर रखे थे, जबकि यह उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं था। उन्होंने रिपोर्ट जीएम माइनिंग टहल सिंह सेखों को दी। सेखों ने माइनिंग आॅफिसर से फाइल का रिकाॅर्ड मांगा, जिसके आधार पर ये परमिट जारी किए गए। लेकिन सिमरप्रीत कौर ने फाइल उपलब्ध नहीं कराई। इसके अलावा सिमरप्रीत कौर के खिलाफ कई अन्य शिकायतें भी जीएम को मिलीं। हालात को देखते हुए सभी अफसर मिलकर सिमरप्रीत के खिलाफ मंत्री से मिले और सिमरप्रीत की शिकायत दी। मंत्री ने विभाग के प्रमुख सचिव आरके वर्मा से रिपोर्ट मांग ली है। उधर, जिला उद्योग केंद्र के जीएम कम माइनिंग आॅफिसर टहल सिंह सेखों ने इन शिकायतों के आधार पर प्रमुख सचिव और डायरेक्टर इंडस्ट्रीज को लिख दिया है।

मुझे पैसे इकट्‌ठे करने को कहती हैं सिमरप्रीत: बलजीत सिंह

डेराबस्सी के बीएलईओ बलजीत सिंह ने जीएम माइनिंग टहल सिंह सेखों को सिमरप्रीत कौर के खिलाफ शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि पिछले करीब डेढ़ महीने से माइनिंग आॅफिसर ने उन्हें परेशान कर रखा है। वे उन्हें क्रशर मालिकों और बेसमेंट खोदने वालों से पैसे इकटठे करने के लिए कहती हैं। जब वे ऐसा करने से इनकार करते हैं तो उन्हें धमकाया जाता है। माइनिंग अफसर ने कई क्रशर रजिस्टर्ड किए हुए हैं, जो जीएम के अधिकार क्षेत्र में है। इन रजिस्टर्ड किए गए क्रशर्स से भी माइनिंग आॅफिसर पैसे इकटठे करने को कहती हैं। इससे भी उन्होंने इनकार किया तो उन्हें धमकाया कि वे उसकी उच्च अफसरों से शिकायत करेंगी और उन्हें सस्पेंड करवा देंगी। इस कारण वो दिमागी रूप से काफी परेशान हैं। उनके साथ किसी तरह की मिस हैपनिंग होती है तो इसकी जिम्मेदारी माइनिंग अफसर की होगी।

‘मेरे पास कई शिकायतें, सिमरप्रीत कर रही पावर्स का िमसयूज’

मेरे पास माइनिंग आॅफिसर सिमरप्रीत कौर की कई शिकायतें आई थी। उन पर काफी गंभीर आरोप लगे हैं। इसे लेकर उनसे कई बार अपना पक्ष रखने के लिए कहा गया, लेकिन अभी तक उनका कोई जवाब नहीं आया है। इस बारे में रिपोर्ट बनाकर डायरेक्टर को सौंप दी गई है। मेरे पास चार क्लास वन अफसर हैं और एक क्लास टू अफसर सिमरप्रीत कौर हैं। ये सभी मेरे अधीन काम करते हैं। क्रशर्स रजिस्ट्रेशन और परमिट जारी करना मेरे अधिकार क्षेत्र में है। मेरे अलावा कोई क्लास वन अफसर भी क्रशर रजिस्टर और परमिट जारी नहीं कर सकता। सिर्फ सिमरप्रीत ही अपने लेवल ही पावर्स मिसयूज करते हुए रजिस्ट्रेशन व परमिट जारी कर रही है। - टहल सिंह सेखों, जीएम, माइनिंग, मोहाली

सिमरप्रीत की सफाई

मैं तो अपनी पावर्स के अनुसार कर रही हंू काम

रूल्स से बाहर जाकर मैं ऐसा कुछ नहीं करती, जिससे पावर्स का मिसयूज होे। मेरे खिलाफ डायरेक्टर को दी गई शिकायत पर डायरेक्टर इंडस्ट्री ने डायरेक्टर माइनिंग को लिखकर पूछा है कि क्या ये मिसयूज आॅफ पावर्स है या नहीं। अब वो बताएंगे कि मेरे पास अथाॅरिटी है या नहीं। जो शिकायत बीएलईओ ने मेरे खिलाफ दी है तो उनसे मेरा कोई लिंक ही नहीं है। मैंने उनको कभी फोन नहीं किया। बीएलओ की मेरे पास शिकायत आई थी। अब बीएलईओ अपने बचाव के लिए मेरे खिलाफ शिकायत दे रहे हैं। इसकी जांच एसडीएम साहब कर रहे हैं। जीएम के पास मेरी कोई इंक्वायरी नहीं है। वो मुझे परेशान कर रहे हैं। मैं नियमों के अनुसार काम कर रही हूं और वो नियमों से बाहर जाकर काम कर रहे हैं। जीएम और मेरी पावर्स इक्वल हैं। मेरी कोई इंक्वायरी जीएम नहीं कर सकते। -सिमरप्रीत कौर, माइनिंग आॅफिसर, मोहाली

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Chandigarh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: माइनिंग अफसर सिमरप्रीत के खिलाफ कर्मचािरयों की शिकायत, मंत्री ने प्रमुख सचिव से मांगी रिपोर्ट
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×