--Advertisement--

बिना जुर्माने के बढ़वा सकते हैं बिजली का लोड

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम ने कृषि, घरेलू, गैर-घरेलू व एलटी इंडस्ट्री के उपभोक्ताओं के लिए स्वैच्छिक घोषणा...

Dainik Bhaskar

Jun 10, 2018, 03:05 AM IST
उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम ने कृषि, घरेलू, गैर-घरेलू व एलटी इंडस्ट्री के उपभोक्ताओं के लिए स्वैच्छिक घोषणा योजना-2018 शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत उपभोक्ता स्वेच्छा से अपने कनेक्शन पर गैरकानूनी लोड की घोषणा करके बिना जुर्माने के लोड बढ़वा सकते हैं। यह योजना 31 जुलाई 2018 तक लागू रहेगी।

निगम द्वारा कृषि उपभोक्ताओं को राहत देेते हुए यह निर्णय लिया गया कि लोड बढ़ाने के लिए कृषि उपभोक्ताओं को सर्विस चार्ज का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। घरेलू व गैर-घरेलू कनेक्शनों का लोड बढ़ाने के लिए उपभोक्ता बिना किसी शर्त या एफिडेविट दिए सिर्फ घोषणा पत्र के साथ नए लोड की दरों के अनुसार शुल्क जमा करवाकर आसानी से लोड में वृद्धि करवा सकते हैं।

20 किलोवाट तक टेस्ट रिपोर्ट की जरूरत नहीं : 20 किलोवॉट से कम लोड वाले उपभोक्ताओं को टेस्ट रिपोर्ट जमा करवाने की आवश्यकता नहीं होगी, जबकि 20 किलोवॉट से अधिक लोड वाले घरेलू, गैर-घरेलू और एलटी इंडस्ट्री के उपभोक्ताओं को लोड बढ़ाने के लिए टैस्ट रिपोर्ट जमा करवानी होगी।

ईस्ट-वेस्ट जोन के बिल की जानकारी वॉट्सएप पर

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए अब बिजली बिल की जानकारी वाट्सएप पर उपलब्ध करवाई जाएगी। इस संबंध में सभी चार उपमंडलों में आने वाले उपभोक्ताओं के लिए वाट्सएप ग्रुप तैयार किए जा रहे हैं। बिजली उपभोक्ताओं से अनुरोध किया गया है कि वे इस वॉटसएप में अपना नंबर दर्ज करवाने के लिए सब डिवीजन का नाम, उपभोक्ता का नाम, खाता संख्या और मोबाइल नंबर संबंधित सब डिवीजन के वाट्सएप ग्रुप में भेजे। किसी भी तरह की बिजली की समस्या के लिए टोल फ्री नंबर 1912 व 18001801550 की सुविधा भी उपलब्ध है।

भास्कर न्यूज | चंडीगढ़

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम ने कृषि, घरेलू, गैर-घरेलू व एलटी इंडस्ट्री के उपभोक्ताओं के लिए स्वैच्छिक घोषणा योजना-2018 शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत उपभोक्ता स्वेच्छा से अपने कनेक्शन पर गैरकानूनी लोड की घोषणा करके बिना जुर्माने के लोड बढ़वा सकते हैं। यह योजना 31 जुलाई 2018 तक लागू रहेगी।

निगम द्वारा कृषि उपभोक्ताओं को राहत देेते हुए यह निर्णय लिया गया कि लोड बढ़ाने के लिए कृषि उपभोक्ताओं को सर्विस चार्ज का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। घरेलू व गैर-घरेलू कनेक्शनों का लोड बढ़ाने के लिए उपभोक्ता बिना किसी शर्त या एफिडेविट दिए सिर्फ घोषणा पत्र के साथ नए लोड की दरों के अनुसार शुल्क जमा करवाकर आसानी से लोड में वृद्धि करवा सकते हैं।

20 किलोवाट तक टेस्ट रिपोर्ट की जरूरत नहीं : 20 किलोवॉट से कम लोड वाले उपभोक्ताओं को टेस्ट रिपोर्ट जमा करवाने की आवश्यकता नहीं होगी, जबकि 20 किलोवॉट से अधिक लोड वाले घरेलू, गैर-घरेलू और एलटी इंडस्ट्री के उपभोक्ताओं को लोड बढ़ाने के लिए टैस्ट रिपोर्ट जमा करवानी होगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..