--Advertisement--

आज आरोपी आईएएस पेश नहीं हुए तो आयोग जाएगा उनके बयान दर्ज करने

चंडीगढ़| महिला आईएएस की ओर से लगाए गए यौन शोषण आरोप के मामले में आरोपी सीनियर आईएएस को महिला आयोग की ओर से बुधवार...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 03:05 AM IST
चंडीगढ़| महिला आईएएस की ओर से लगाए गए यौन शोषण आरोप के मामले में आरोपी सीनियर आईएएस को महिला आयोग की ओर से बुधवार सुबह 11 बजे पेश होने का समय दिया गया है। यदि वे नहीं आते हैं तो आयोग खुद उनके बयान लेने उनके पास जाएगा।

आयोग की चेयरपर्सन प्रतिभा सूमन का कहना है कि उनका पक्ष जानना जरूरी है। यदि वे नहीं आते हैं तो वे उनके पास जाएंगी। उन्हें जांच में शामिल होना पड़ेगा। वे जांच से दूर नहीं जा सके। उल्लेखनीय है कि पशु पालन एवं डेयरी विभाग में कार्यरत आईएएस ने अपने सीनियर आईएएस एवं महकमे के एसीएस सुनील कुमार गुलाटी पर यौन शोषण और करियर खराब करने की धमकी देने के आरोप लगाए थे। इसके बाद महिला आयोग ने दोनों को नोटिस जारी कर सोमवार दोपहर दो बजे बुलाया था। महिला आईएएस तो आयोग के सामने पेश हो गई लेकिन गुलाटी नहीं पहुंचे और शाम को मेल भेजकर तीन दिन का वक्त मांगा था, इस पर आयोग ने उन्हें बुधवार सुबह 11 तक का समय दिया।

सरकार ने बनाई आंतरिक समिति

एचसीएस रीगन कुमार द्वारा महिला कर्मचारी से छेड़छाड़ करने और एक महिला आईएएस की ओर से सीनियर आईएएस पर यौन शोषण का आरोप लगाने पर सरकार ने महिलाओं के यौन उत्पीड़न की शिकायतों के निवारण को मुख्य सचिव कार्यालय की एक आंतरिक शिकायत समिति का गठन किया है। इसकी अध्यक्ष सीनियर आईएएस एवं सहकारिता और सतर्कता विभागों की एसीएस नवराज संधू को अध्यक्ष बनाया गया है।