--Advertisement--

इधर भी घपला...एक्सईएन ने बदली टेंडर की शर्तें

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 03:10 AM IST

News - चंडीगढ़| यूटी इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के अफसरों की वजह से डेवलपमेंट के काम रुक गए हैं। सेक्टर-48 में 100 बेडेड...

इधर भी घपला...एक्सईएन ने बदली टेंडर की शर्तें
चंडीगढ़| यूटी इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के अफसरों की वजह से डेवलपमेंट के काम रुक गए हैं। सेक्टर-48 में 100 बेडेड हॉस्पिटल का टेंडर बाद में बदल दिया गया। इसका असर यह रहा कि टेंडर कैंसिल करना पड़ा और यह काम रुक गया। एक्सईएन डीके अग्रवाल किसी दूसरी कंपनी से काम करवाना चाहते थे, बस इसी चक्कर में यह सब हुआ। अब इसकी शिकायत चीफ इंजीनियर मुकेश आनंद, फाइनेंस सेक्रेटरी अजॉय कुमार सिन्हा सहित सेंट्रल विजिलेंस कमीशन को हुई है।

डीके अग्रवाल ने सेक्टर-48 में बन रहे हॉस्पिटल की फॉल सीलिंग, कैनोपी व कुछ अन्य कामों का 2 करोड़ 17 लाख रुपए का टेंडर 30 अप्रैल 2018 को लगाया। लिखा गया कि जीएसटी की रकम कॉन्ट्रैक्टर इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में जमा करवाएगा और बाद में इंजीनियर इन चार्ज जीएसटी की इस रकम को कॉन्ट्रैक्टर को रीइम्बर्स करेगा। पेज-3

X
इधर भी घपला...एक्सईएन ने बदली टेंडर की शर्तें
Astrology

Recommended

Click to listen..