--Advertisement--

एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा

संजीव महाजन/गौरव भाटिया | चंडीगढ़ सीएचबी में एक्सईएन कैलाश गर्ग ने अपने ही चीफ इंजीनियर राजीव सिंगला पर करप्शन के...

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 03:10 AM IST
एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
संजीव महाजन/गौरव भाटिया | चंडीगढ़

सीएचबी में एक्सईएन कैलाश गर्ग ने अपने ही चीफ इंजीनियर राजीव सिंगला पर करप्शन के आरोप लगाए हैं। एक्सईएन ने सीएचबी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर हरीश नैयर को 8 पेज की शिकायत भेजकर बताया कि चीफ इंजीनियर ने कहां से और कैसे घपला किया। एक लेटर चंडीगढ़ पुलिस के एसएसपी को भी दिया। कहा कि सुरक्षा दी जाए, क्योंकि उन्हें चीफ इंजीनियर से जान का खतरा है। यूटी पुलिस अब कैलाश गर्ग को सिक्योरिटी दे रही है। सिक्योरिटी ऑफिस टाइम में ही मिलेगी, क्योंकि एक्सईएन ने अॉफिस टाइम में ही जान का खतरा बताया है। यूटी प्रशासन में ऐसा पहली बार हो रहा है कि बॉस से उसके जूनियर को खतरा है और बॉस से बचने के लिए पुलिस तैनात की जा रही है। एक्सईएन कैलाश गर्ग ने बताया कि पुलिस डिपार्टमेंट ने उन्हें फोन कर कहा है कि सिक्योरिटी अलॉट हो गई है। सोमवार तक वे छुट्टी पर हैं और सोमवार से उन्हें उनके दफ्तर में सिक्योरिटी दी जाएगी।


कैलाश गर्ग

अपने बॉस से कैलाश गर्ग को खतरा


लेटर में लिखा कि अगर पीवीसी टैंक लगाने थे तो सिंगला ने सिंटेक्स कंपनी के ही टैंक लगा दिए। किसी दूसरी कंपनी को बुलाया तक नहीं गया। इसी तरह जीआई पाइप के लिए सिर्फ टाटा कंपनी की पाइप लगा दी गई। सिंटेक्स की 500 लीटर की टंकी 3 हजार रुपए और टाटा की 20 फुट की जीआई पाइप 3 हजार रुपए की कीमत पर मार्केट से मिलती है। सिंगला ने एमआरटीपी एक्ट और कंपीटिशन कमीशन ऑफ इंडिया की गाइडलाइंस को पूरी तरह से दरकिनार किया।


-हरीश नैयर, चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर

ऑफिस में दोनों के कमरे में 20 फुट का फासला...


लेटर में कैलाश गर्ग ने लिखा कि सिंगला का उनके प्रति एटीट्यूड काफी भेदभाव वाला रहा है। मेरी 28 साल की सर्विस का रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है लेकिन 2016-17 में मुझे सिंगला ने एवरेज से नीचे के ग्रेड दिए। एक्सईएन ने आरोप लगाए कि सिंगला ने जो गलत तरीके से पैसा कमाया, उसे अपने भाई के टैक्सी बिजनेस में लगाया। उसकी इस समय 200 टैक्सियां चलती हैं। मुझे लगता है कि सिंगला मुझे एक्सीडेंट के जरिए जान से मरवा सकते हैं।


-राजीव सिंगला, चीफ इंजीनियर, सीएचबी

ये लगाए आरोप





एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
X
एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
एक्सईएन ने चीफ इंजी. को कहा रिश्वतखोर, जान का खतरा बताया, मिली पुलिस सुरक्षा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..