--Advertisement--

जीएमसीएच-32 में भी शुरू होगी स्टूडेंट्स की सोशल सर्विसेज

चंडीगढ़ के कॉलेजों और पंजाब यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स जल्द ही जीएमसीएच सेक्टर-32 में भी लोगों की हेल्प...

Danik Bhaskar | Jun 11, 2018, 04:05 AM IST
चंडीगढ़ के कॉलेजों और पंजाब यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स जल्द ही जीएमसीएच सेक्टर-32 में भी लोगों की हेल्प के लिए मौजूद रहेंगे। छुट्टियों के बाद नया सेशन शुरू होते ही जीएमसीएच में ये सर्विस सारथी प्रोजेक्ट के तहत शुरू हो जाएगी। इस प्रोजेक्ट को हायर एजूकेशन डिपार्टमेंट यूटी चंडीगढ़, रेडक्रॉस सोसायटी की तरफ से शुरू किया गया था। इस प्रोजेक्ट की शुरुआत पीजीआई से की गई और इसके बाद अब पहले जीएमसीएच-32 में और उसके बाद जीएमएसएच सेक्टर-16 में इसको शुरू किया जाएगा। प्रोजेक्ट का मकसद ये कि वो मरीज या उनके साथ आए लोगों को हेल्प पहुंचाना है। बिक्रम राणा स्टेट लाइजनिंग ऑफिसर स्टेट एनएसएस सेल यूटी चंडीगढ़ ने कहा कि पीजीआई में ये प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा। करीब 360 स्टूडेंट्स इस प्रोजेक्ट में शामिल हुए हैं। स्टूडेंट्स की ड्यूटी इस तरह से शिफ्टों में लगाई जाएगी ताकि उनकी पढ़ाई भी डिस्टर्ब न हो।

कॉलेजों और पीयू से जुड़े स्टूडेंट्स

एनएसएस वॉलटिंयर्स या फिर जो स्टूडेंट्स अपनी मर्जी से प्रोजेक्ट से जुड़ना चाहते हैं उनकी ड्यूटी अलग अलग 4-4 घंटों की शिफ्ट में लगाई जाती है। मरीज जिनको किसी चीज के बारे में या कौन सा टेस्ट कहां होना है इसके बारे में पता नहीं होता है। उनकी हेल्प करवाना या फिर किसी का कार्ड बनवाना या फिर किसी तरह की और हेल्प की जरूरत हो तो ये काम स्टूडेंट करते हैं।