24 मई को स्मार्ट सिटी कंपनी की ओर से लगेंगे टेंडर, एसटीपी प्लांट अपग्रेडेशन के टेंडर में आई सिंगल कंपनी

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:26 AM IST

Chandigarh News - चंडीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड की ओर से 24 मई को कई प्रोजेक्ट के टेंडर काॅल किए जाएंगे। इनमें डंपिंग ग्राउंड की खुदाई,...

Chandigarh News - on may 24 a tender for tender stp plant upgradation will come from smart city company
चंडीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड की ओर से 24 मई को कई प्रोजेक्ट के टेंडर काॅल किए जाएंगे। इनमें डंपिंग ग्राउंड की खुदाई, मनीमाजरा 24 घंटे वाॅटर सप्लाई का पायलट प्रोजेक्ट, स्मार्ट वाॅटर मीटर मनीमाजरा, मनीमाजरा में वाॅटर सप्लाई स्काडा, टर्शरी वाॅटर का स्काडा, पब्लिक शेयरिंग बाई साइकिल और सीवर ट्रीटमेंट प्लांट अपग्रेडेशन के टेंडर फिर से काल किए जाएंगे। इसके अलावा सेक्टर 17 में इंटेग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर, ई-गवर्नेंस, अंडर ग्राउंड वायरिंग की मैपिंग के टेंडर पहली बार काॅल किए जाने हैं।

यह फैसला चंडीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड की टेक्निकल कमेटी की वीरवार की मीटिंग में लिया गया। बिड काॅल करने के बाद सभी प्रोजेक्ट की टाइम लाइन तय होगी। कंपनी की ओर से शहर के पांच (मोहाली फेज-11 डिग्गियां, रायपुर कलां, रायपुर खुर्द और धनास रिहैबिलिटेशन कॉलोनी) के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट अपग्रेड करने और किशनगढ़ में नया सीवर ट्रीटमेंट लगाने का 510 करोड़ का टेंडर 31 मार्च को लगाया गया। इसे अब तक तीन बार एक्सटेंड किया जा चुका है। इसकी टेक्निकल बिड में एल एंड टी सिंगल कंपनी आई। सिंगल कंपनी होने की वजह से इसपर भी 24 मई को टेक्निकल कमेटी की मीटिंग होगी। इसमें तय होगा सिंगल टेंडर को कैंसिल करके दोबारा से काॅल करना है, या फिर सिंगल टेंडर को बड़ी कंपनी होने के कारण कंसीडर करना है। पहली बार में सिंगल टेंडर को कंसीडर नहीं किया जा सकता है। इसलिए दोबारा से काॅल की उम्मीद है। चार सीवर ट्रीटमेंट प्लांट को अपग्रेडेशन करके उनकी (बायोकेमिकल ऑक्सीजन डिमांड) लेवल 20-30 से कम करके 5 तक किया जाना है। जबकि किशनगढ़ में एक नया प्लांट लगाना है। इस प्रोजेक्ट की कॉस्ट 310 करोड़ है जबकि इनकी 15 साल की मेंटेनेंस पर 200 करोड़ रुपए खर्च आएगा। इसके अलावा बिजली बिलों और का खर्चा 190 करोड़ रुपए शामिल है।

डंपिंग ग्राउंड की खुदाई करवाने का 24 मई को लगेगा टेंडर: सभी राजनीतिक पार्टियों ने डड्डूमाजरा स्थित डंपिंग ग्राउंड का मुद्दा हाई लाइट किया। डंपिंग की खुदाई करवाने या शिफ्ट करवाने के लिए पार्टियों में अपने-अपने स्तर पर घोषणा पत्र में शामिल किया है। लेकिन डंपिंग ग्राउंड की खुदाई कंपनी करेगी। कंपनी 24 मई को टेंडर काॅल करेगी। डंपिंग ग्राउंड की 16 एकड़ जमीन से पांच लाख मीट्रिक टन कचरे की खुदाई होनी है। इस पर स्मार्ट सिटी कंपनी का 40 करोड़ रुपए खर्च आएगा। स्मार्ट सिटी की टेक्निकल कमेटी की वीरवार को हुई मीटिंग में रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल अप्रूवल कर दी है। खुदाई का काम दो साल के भीतर होगा।

स्मार्ट सिटी के सेक्टर-17 में बनने वाले इंटेग्रेटिड कमांड कंट्रोल सेंटर से जुड़ेंगी सभी सर्विस: सेक्टर-17 के पुलिस हाउसेस में कंपनी का इंटेग्रेटिड कमांड कंट्रोल सेंटर बनेगा। इससे शहर की सभी सर्विस जुड़ेंगी। इसपर 199 करोड़ खर्च आएगा। इसके लिए स्मार्ट सिटी कंपनी का (बेल) भारत इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड के साथ एमओयू हो चुका है। इलेक्शन कोड हटते ही इसपर काम होने लगेगा। 24 मई को ई-गवर्नेस का टेंडर भी काॅल किया जाएगा।

शहर की सभी 20 एंट्री और एक्जिट के अलावा 40 ट्रैफिक लाइट पर 747 पीटीजेड कैमरा के जरिए ई चालानिंग होगी। शहर निवासियों की सुरक्षा के लिए 943 सर्विलेंस कैमरा लगेंगे। इन्हें सरकारी स्कूल, अस्पताल, पार्कों और कम्युनिटी सेंटर में लगाया जाएगा। इसके अलावा 288 सर्विलेंस कैमरा को वाॅटर वर्क्स और ट्यूबवेल पर लगाया जाना है। इसके लिए इंटेग्रेटिड कंट्रोल कमांड कंट्रोल सेंटर में बैठे कर्मचारियों को वीडियो वॉल पर पल-पल की जानकारी होगी।

ई-गवर्नेंस सिस्टम से जुड़ेंगी सभी सर्विस भी: ई-गवर्नेंस के जरिए इंटेग्रेटिड कमांड कंट्रोल सेंटर से शहर की सभी सर्विस जुड़ेंगी और आॅन लाइन होंगी। प्रशासन, एमसी की जरूरी सेवाओं में बर्थ एंड डेथ सर्विस, लाइसेंसिंग एंड रजिस्टरिंग सर्विस, डीसी ऑफिस सहित सिटीजन चार्टर, प्रॉपर्टी टैक्स सहित अन्य सर्विस शामिल हैं। सभी सर्विस पर काम ऑन लाइन के जरिए हो सकेगा। इसके लिए कंपनी एप तैयार करेगी। इसके अलावा वेब से भी ऑन लाइन सिस्टम हो सकेगा।

टर्शरी वाॅटर के लिए सेक्टर-28 के यूजीआर में बनेगा स्काडा: शहर में सप्लाई होने वाले टर्शरी वाॅटर के लिए सेक्टर-28 के यूजीआर पर स्काडा (सुपरवाइजरी कंट्रोल एंड डाटा एक्यूजेशन) लगाया जाएगा। इसे बनाने का 5 करोड़ का टेंडर 24 मई को चंडीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड कंपनी की ओर से काॅल किया जाएगा।

अब दोबारा से होगा काॅल किया जाएगा टेंडर

पायलट प्रोजेक्ट, मनीमाजरा में होने लगेगा 24x 7 घंटे वाॅटर सप्लाई प्रोजेक्ट पर काम

चंडीगढ़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड कंपनी की ओर से 24 मई को पायलट प्रोजेक्ट मनीमाजरा में 24x7 वाटर सप्लाई करने के लिए 140 करोड़ का टेंडर काल किया जाएगा। इसमें 55 करोड़ अतिरिक्त लाइन बिछाने, यूजीआर और स्काडा (सुपरवाइजरी कंट्रोल डाटा एक्यूजेशन)बनाने पर खर्च होगा। जबकि 85 करोड़ 15 साल की मेंटेनेंस पर खर्च होगा। टेंडर में आने वाली लोएस्ट कंपनी को काम अलॉट होगा। इसी से मनीमाजरा की वाटर सप्लाई और 13 हजार 700 स्मार्ट वाटर मीटर जुड़ेंगे। इनका भी इलेक्शन के बाद 24 करोड़ का टेंडर काल होगा। इसमें 12 करोड़ मीटर की कॉस्ट और 12 करोड़ इनकी 16 साल की मेंटेनेंस कॉस्ट शामिल है।

शहर में 617 डॉकिंग स्टेशन से चलेंगे 10 हजार साइकिल... स्मार्ट सिटी कंपनी शहर में 617 डॉकिंग स्टेशन से शेयरिंग बेस 10 हजार बाई साइकिल चलाएगी। हर डॉकिंग स्टेशन पर 10 से 15 साइकिल रखी जाएंगी। इसका टेंडर 24 मई को काल किया जाएगा। इसमें हिस्सा लेने वाली कंपनी को शेयरिंग बेस साइकिल चलाने का अनुभव और उसकी सालाना टर्नओवर 20 करोड़ होगी , वही टेंडर में हिस्सा ले सकेगी। टेंडर में फाइनल होने वाली कंपनी ही शेयरिंग बेस साइकिल चलाएगी। शहरवासियों को हर डॉकिंग स्टेशन से साइकिल पांच रुपए प्रति घंटा के हिसाब से मिल सकेगी। कंपनी को सभी डॉकिंग स्टेशन पर एडवर्टाइजमेंट लगाने की परमिशन होगी, जिससे कंपनी की इनकम होगी।

X
Chandigarh News - on may 24 a tender for tender stp plant upgradation will come from smart city company
COMMENT