हमारी कोशिश है पुराने केसों को करें खत्म: सेशंस जज

Chandigarh News - ‘मैं तीन साल बाद शहर में वापस आया हूं, कुछ खास बदलाव नहीं हुए हैं। बस ऑफिसर्स नए आ गए हैं। पहले मेरा काम सिर्फ फैसले...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Chandigarh News - our effort is to finish the old cases sessions judge
‘मैं तीन साल बाद शहर में वापस आया हूं, कुछ खास बदलाव नहीं हुए हैं। बस ऑफिसर्स नए आ गए हैं। पहले मेरा काम सिर्फ फैसले करना होता था, लेकिन अब मेरी जिम्मेदारी बढ़ गई है। मुझे ज्यूडिशियल ऑफिसर्स और एडवोकेट्स सभी को साथ लेकर काम करना होगा।’ये कहना है चंडीगढ़ के नए डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज परमजीत सिंह का। शनिवार को भास्कर ने सेशंस जज परमजीत सिंह के साथ बातचीत की जिसमें उन्होंने अपने कुछ अनुभव सांझा किए। परमजीत सिंह ने कहा कि चंडीगढ़ की कोर्ट का काम सही ढंग से चल रहा है, फिर भी यहां कई केस पेंडिंग पड़े हैं। हमारी कोशिश रहेगी कि पुराने केसों का जल्द निपटारा करें ताकि लोगों को कई साल तक इंसाफ के लिए कोर्ट में न भटकना पड़े। परमजीत सिंह ने कहा कि लोगों को ये न कहना पड़े कि उनकी उम्र काफी हो गई है, लेकिन उन्हें इंसाफ नहीं मिला। परमजीत सिंह ने इसी महीने जॉइन किया है। वे पहले भी चंडीगढ़ में रह चुके हैं। तब वे यहां एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज थे। इसके बाद उनकी बठिंडा में बतौर डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज ट्रांसफर हो गई। अब वे रोपड़ में डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज थे। रोपड़ से उनकी वापस चंडीगढ़ ट्रांसफर हुई है। परमजीत सिंह ने कहा कि कई बार केसों का ट्रायल लंबे समय तक चलता है। हम तो चाहते हैं कि जल्द केस खत्म हो लेकिन हमें केस में बैलेंस बनाकर रखना पड़ता है। हम नहीं चाहते कि कोई ये कहे कि हमें सुने बिना केस का फैसला कर दिया, इसलिए हम दोनों पक्षों को अपनी-अपनी बात रखने का बराबर मौका देते हैं।

सिटी रिपोर्टर| चंडीगढ़

‘मैं तीन साल बाद शहर में वापस आया हूं, कुछ खास बदलाव नहीं हुए हैं। बस ऑफिसर्स नए आ गए हैं। पहले मेरा काम सिर्फ फैसले करना होता था, लेकिन अब मेरी जिम्मेदारी बढ़ गई है। मुझे ज्यूडिशियल ऑफिसर्स और एडवोकेट्स सभी को साथ लेकर काम करना होगा।’ये कहना है चंडीगढ़ के नए डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज परमजीत सिंह का। शनिवार को भास्कर ने सेशंस जज परमजीत सिंह के साथ बातचीत की जिसमें उन्होंने अपने कुछ अनुभव सांझा किए। परमजीत सिंह ने कहा कि चंडीगढ़ की कोर्ट का काम सही ढंग से चल रहा है, फिर भी यहां कई केस पेंडिंग पड़े हैं। हमारी कोशिश रहेगी कि पुराने केसों का जल्द निपटारा करें ताकि लोगों को कई साल तक इंसाफ के लिए कोर्ट में न भटकना पड़े। परमजीत सिंह ने कहा कि लोगों को ये न कहना पड़े कि उनकी उम्र काफी हो गई है, लेकिन उन्हें इंसाफ नहीं मिला। परमजीत सिंह ने इसी महीने जॉइन किया है। वे पहले भी चंडीगढ़ में रह चुके हैं। तब वे यहां एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज थे। इसके बाद उनकी बठिंडा में बतौर डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज ट्रांसफर हो गई। अब वे रोपड़ में डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज थे। रोपड़ से उनकी वापस चंडीगढ़ ट्रांसफर हुई है। परमजीत सिंह ने कहा कि कई बार केसों का ट्रायल लंबे समय तक चलता है। हम तो चाहते हैं कि जल्द केस खत्म हो लेकिन हमें केस में बैलेंस बनाकर रखना पड़ता है। हम नहीं चाहते कि कोई ये कहे कि हमें सुने बिना केस का फैसला कर दिया, इसलिए हम दोनों पक्षों को अपनी-अपनी बात रखने का बराबर मौका देते हैं।



X
Chandigarh News - our effort is to finish the old cases sessions judge
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना