--Advertisement--

50 यूनिट तक बिजली 2 रु., 200 यूनिट तक 2.5 रु. यूनिट मिलेगी

भास्कर न्यूज | चंडीगढ़/हिसार बिजली दरों में राज्य में पहली बार सबसे बड़ी कटौती की गई है। 26 से 47 % तक दरें कम करने की...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 03:11 AM IST
Chandigarh - 50 यूनिट तक बिजली 2 रु., 200 यूनिट तक 2.5 रु. यूनिट मिलेगी
भास्कर न्यूज | चंडीगढ़/हिसार

बिजली दरों में राज्य में पहली बार सबसे बड़ी कटौती की गई है। 26 से 47 % तक दरें कम करने की सीएम मनोहर लाल ने घोषणा विधानसभा में की है। संशोधित दरें 1 अक्टूबर से लागू होंगी। 50 यूनिट तक के बिल पर 2 रुपए प्रति यूनिट ही देने होंगे। 200 यूनिट तक 2.5 रु. की दर से भुगतान करना होगा।

41 लाख 43 हजार उपभोक्ताओं को सीधा फायदा होगा। सीएम ने कहा कि 46.6% तक लाभ मिलेगा। इसके लिए सरकार बिजली कंपनियों को वार्षिक 677 करोड़ रु. सब्सिडी देगी। दरें घरेलू और गैर घरेलू दोनों पर लागू होंगी। बताई गई दरों में फ्यूल सरचार्ज नहीं जोड़ा है, जो 37 पैसे है। यह सरकार द्वारा तय की गई दरों में अलग से जुड़ेगा। नगर निकायों की ओर से लिया जाने वाला स्ट्रीट लाइट टैक्स भी जोड़ा जाना बाकी है। बिल न भरने वाले डिफाॅल्टरों को राहत का कोई फायदा नहीं मिलेगा।

500 यूनिट तक के उपभोक्ता को ऐसे मिलेगा फायदा

500 यूनिट तक खपत करने वाले उपभोक्ताओं को अब बिजली 4.68 रुपए प्रति यूनिट की दर से मिलेगी, जबकि वर्तमान दर 5.55 रुपए है। इन उपभोक्ताओं का पहले मासिक बिल करीब 2775 रुपए आता था, जो अब घटकर 2338 रुपए रह जाएगा। उनके पहली 50 यूनिट की दर 2 रुपए, इसके बाद 200 यूनिट तक 2 रुपए 50 पैसे की दर से रेट तय होंगे।

200 यूनिट खर्च पर सबसे ज्यादा फायदा

प्रति माह मौजूदा संशोधित वर्तमान संशोधित कमी

यूनिट खपत दरें (‌Rs.) दरें (‌Rs.) बिल (‌Rs.) बिल (‌Rs.) (% में)

50 2.70 2.00 135 100 26

100 3.60 2.50 360 250 31

150 4.50 2.50 675 375 45

200 4.69 2.50 938 500 47

250 4.80 3.05 1200 763 37

400 5.36 4.27 2145 1708 21

500 5.55 4.68 2775 2338 16

एसी वालों को कम, पंखे वालों को ज्यादा फायदा : सीबी गुप्ता


- सीबी गुप्ता, रिटायर्ड एक्सईएन डीएचबीवीएन

पहली बार किसी सरकार ने दी इतनी बड़ी राहत : पंवार


- कृष्ण लाल पंवार, परिवहन एवं आवास मंत्री

ऐसे बनता है बिल

कुल यूनिट की खपत का एसओपी यानी सेल ऑफ परचेज से हिसाब बनाया जाता है। उस पर ईडी यानी इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी, एफएसए यानी फ्यूल सरचार्ज और एम टैक्स यानी निगम टैक्स जोड़कर बिल की कुल राशि निकाली जाती है।


अभय चौटाला और करण दलाल ने एक-दूसरे पर ताने जूते, अपशब्द भी कहे

चंडीगढ़ | मॉनसून सत्र के अंतिम दिन मंगलवार को विधानसभा में शर्मसार करने वाली घटना हुई। सदन की मर्यादाओं को तोड़ते हुए मुख्य विपक्षी दल इनेलो के नेता अभय चौटाला और कांग्रेस विधायक करण दलाल ने एक-दूसरे के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया। दोनों ने मारने के लिए जूते तक निकाल लिए। मारपीट के लिए एक-दूसरे की ओर बढ़े और हाथापाई तक हुई। तब कुछ विधायकों और मार्शलों ने बीच-बचाव किया। यह हंगामा पौने दो घंटे तक चला। बाद में करण दलाल को विधानसभा से एक साल के लिए निलंबित कर दिया गया।


X
Chandigarh - 50 यूनिट तक बिजली 2 रु., 200 यूनिट तक 2.5 रु. यूनिट मिलेगी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..