Hindi News »Union Territory »Chandigarh »News» Situation Under Control In Faghwara After Violence

फगवाड़ा में हालात काबू में, चार जिलों में मोबाइल इंटरनेट-एसएमएस सर्विस रही बंद

चौक का नाम बदलने को लेकर शुरू हुए विवाद में 30 से ज्यादा लोग नामजद।

Bhaskar News | Last Modified - Apr 15, 2018, 09:10 AM IST

फगवाड़ा में हालात काबू में, चार जिलों में मोबाइल इंटरनेट-एसएमएस सर्विस रही बंद

फगवाड़ा/चंडीगढ़. फगवाड़ा में शुक्रवार देर रात चौक का नाम बदलने को लेकर हुई हिंसा के बाद शनिवार को शहर के हालात काबू में रहे। आला अफसर दिनभर शहर में डेरा डाले रहे। अफवाहें राेकने के लिए जालंधर, कपूरथला, होशियारपुर और नवांशहर जिले में शनिवार दोपहर बाद से रविवार शाम तक मोबाइल इंटरनेट व एसएमएस सर्विस बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। हालात के हिसाब से इसमें बदलाव भी हो सकता है। हिंसा मामले में पुलिस ने 30 से ज्यादा लोगों को नामजद किया है। सैकडों अज्ञात लोगों पर भी केस दर्ज किया गया है। दलित संगठनों ने शुक्रवार को फगवाड़ा के पेपर चौक (गोल चौक) का नाम संविधान चौक रखते हए यहां बो ु र्डलगा दिया था। कुछ संगठन इसके विरोध में उतर आए और फिर विवाद शुरू हो गया। देर रात पथराव, फायरिंग और तोड़फोड़ शुरू हो गई। दोनों पक्षों के पांच लोग आैर एक पुलिसकर्मी जख्मी हो गया था।

हिंसा में जख्मी दो युवकों की हालत गंभीर

फगवाड़ा में हुई हिंसा में शुक्रवार रात जख्मी हुए दो युवक डीएमसी अस्पताल में दाखिल हैं। दोनों घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है। बॉबी नाम के युवक के सिर में गोली फंसी है। जबकि एक अन्य को पेट में गोलियां लगी हैं। अस्पताल स्टाफ और प्रशासन इसकी कोई अाधिकारिक जानकारी नहीं दे रहे हैं।

शिव सेना नेता को पीटा, कोई शिकायत नहीं फगवाड़ा

फगवाड़ा में हुई घटना के बाद शनिवार को शिव सेना पंजाब के उपाध्यक्ष राजेश पलटा की कुछ लोगों नेपिटाई कर दी। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। हालांकि, इस मामले में पलटा ने पुलिस से कोई शिकायत नहीं की है।

1700 से ज्यादा जवान रहे तैनात

शनिवार को दोनों पक्षों ने डीसी व एसएसपी को मांग पत्र सौंपे। इलाके में 1700 से ज्यादा पुलिस जवानों को तैनात किया गया। तनाव के मद्नजर द दे िल्ली-लाहौर बस का रूट भी बदल दिया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×