--Advertisement--

पीजी हाउस में संदिग्ध हालात में मिला बीटेक स्टूडेंट का शव, नशे की ओवरडोज से मौत की आशंका

दरवाजा न खोलने पर केयरटेकर ने नाहन में पिता को दी सूचना, पिता के आने पर तोड़ा गया दरवाजा

Dainik Bhaskar

Jun 09, 2018, 06:45 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

नयागांव. नयागांव में एवन ढाबे के ऊपर बने पीजी हाउस के रूम नंबर-201 में रह रहे बीटेक स्टूडेंट अंकुश का शव शुक्रवार रात करीब 9.30 बजे संदिग्ध हालात में कमरे में मिला। माना जा रहा है कि उसकी नशे की ओवरडोज से मौत हुई। पुलिस ने जांच के बाद शव को खरड़ सिविल अस्पताल की मॉर्चरी में रखवा दिया है। अंकुश हिमाचल के नाहन का रहने वाला था और यहां बीटेक के बाद एक कंपनी में नौकरी कर रहा था।

अंदर से दरवाजा बंद था, कुंडी तोड़कर देखा तो बेहोश पड़ा था अंकुश

- पीजी हाउस के केयरटेकर प्रवीन कुमार ने बताया कि अंकुश के पिता रमेश कुमार नाहन में पुलिस में कार्यरत हैं। उनका शुक्रवार शाम करीब 7 बजे फोन आया। उन्होंने बताया कि वो अपने बेटे अंकुश को फोन कर रहे हैं, लेकिन वो फोन नहीं उठा रहा।

- इस पर जब उन्होंने उसके कमरे में जाकर देखा तो दरवाजा बंद था। उन्होंने दरवाजा खटखटाया तो अंकुश ने नहीं खोला। जब उसने दरवाजा नहीं खोला तो प्रवीन ने पिता को फोन कर इस बारे में बताया।

- उसके पिता करीब 9 बजे नाहन से यहां पहुंच गए। उनके आने के बाद कुंडी तोड़कर दरवाजा खोला गया। अंदर अंकुश बेसुध पड़ा था। उसके मुंह से झाग निकल रही थी। अंकुश के पिता रमेश कुमार ने नयागांव थाने में सूचना दी, जिस पर एएसआई जसबीर सिंह मौके पर पहुंचे।

- तब तक अंकुश की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने जांच के बाद उसका शव खरड़ सिविल अस्पताल की मॉर्चरी में रखवा दिया। प्रवीन के अनुसार अंकुश नशा करता था। आशंका जताई जा रही है कि उसकी मौत नशे की ओवरडोज से हुई। हालांकि सच्चाई पोस्टमॉर्टम के बाद सामने आएगी।

घरवालों को नहीं पता कहां कर रहा था नौकरी...

- पुलिस के अनुसार अंकुश के पिता रमेश कुमार ने बताया कि अंकुश बीटेक कर चुका था। उसने घरवालों को बताया था कि वह यहां किसी कंपनी में नौकरी कर रहा था, लेकिन उसने यह नहीं बताया था कि वह कहां नौकरी करता है। इस बारे में पुलिस जांच कर रही है। उसके कमरे की जांच की जा रही है।

X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..