इलेक्ट्रोस्टेटिक स्पेयर की टेक्नोलॉजी ट्रांसफर होने से कम खर्च होगी दवा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:26 AM IST

Chandigarh News - सीएसआईआर सेंट्रल साइंटिफिक इंस्ट्रूमेंट ऑर्गेनाइजेशन (सीएसआईओ) ने एडवांस्ड स्प्रिंग टेक्नोलॉजी...

Chandigarh News - technology transfer of electrostatic spare will cost less than drug
सीएसआईआर सेंट्रल साइंटिफिक इंस्ट्रूमेंट ऑर्गेनाइजेशन (सीएसआईओ) ने एडवांस्ड स्प्रिंग टेक्नोलॉजी इलेक्ट्रोस्टैटिक स्प्रेयर को ट्रांसफर कर दिया है। यह तकनीक दशमेश इंडस्ट्रीज अलवर को ट्रांसफर की गई है। इस टेक्नोलॉजी ट्रांसफर को लेकर मेमोरेंडम आॅफ अंडरस्टैंडिंग शुक्रवार को सीएसआईओ कैंपस में साइन किया गया।

इस स्प्रेयर में मीटर और जीपीएस का इस्तेमाल किया जाता है। इसकी मदद से किसान सही मात्रा में पेस्टिसाइड डिसाइड आदि का इस्तेमाल करेंगे। उल्लेखनीय है कि पंजाब में पेस्टिसाइड का इस्तेमाल पूरे देश के मुकाबले सबसे ज्यादा है जिसकी वजह से गंभीर नुकसान भूमि, जल और पर्यावरण को झेलने पड़ रहे हैं। इस तकनीक में डस्ट्स प्रेशर का इस्तेमाल किया गया है। इसकी एफिशिएंसी और बायो एफिशिएंसी बहुत अच्छी है। इसकी मदद से थोड़े बदलाव करके फलों व सब्जियों पर एडिबल प्रोटेक्टिव कोटिंग भी की जा सकती है।

तकनीक तैयार करने वाले डॉ. मनोज के पटेल ने कहा कि यह स्प्रेयर भारत के छोटे किसानों को ध्यान में रखकर बनाया गया है। ये लो कॉस्ट सिस्टम है जिसका उपयोग सभी कर सकते हैं। इस अवसर पर दशमेश इंडस्ट्रीज की ओर से रमनदीप सिंह और अमनदीप सिंह और सीएसआईआर से डॉ. सुरेंद्र सैनी भी मौके पर मौजूद थे।

X
Chandigarh News - technology transfer of electrostatic spare will cost less than drug
COMMENT