--Advertisement--

इस गांव की लड़की को मिला 46 लाख रूपए का पैकेज, 10 बार हुई थी रिजेक्ट फिर ऐसा मिली सफलता

गांव का नाम दुनिया तक पहुंचाना था इसलिए मेहनत की।

Danik Bhaskar | Apr 10, 2018, 12:55 AM IST
यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल की स्टूडेंट रेणुका नेगी यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल की स्टूडेंट रेणुका नेगी

चंडीगढ़. किन्नौर जिले की सांगला वैली में ना तो पढ़ाई की अच्छी सुविधा है और ना ही करियर के लिए आगे के रास्ते। इसी मजबूरी ने 10वीं क्लास में ही रेणुका नेगी को जालंधर और फिर चंडीगढ़ जाने पर मजबूर किया था। जालंधर से दसवीं और बारहवीं करने के बाद पंजाब यूनिवर्सिटी से बी फार्मा और यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल (यूबीएस) से एमबीए। एमबीए में सबसे ज्यादा करीबन 46 लाख का पैकेज पाने वाली रेणुका अपनी इस उपलब्धि पर हैरान भी हैं और खुश भी। उनके साथ ही एक दूसरे स्टूडेंट आदित्य पांडे को भी यही पैकेज मिला है। आमतौर पर आईआईएम जाने वाली कंपनी इस बार यूबीएस में थी और उन्होंने यहां से 2 स्टूडेंट चुने।

इतने पैसों का क्या करेंगे, तो दिया था ये जबाव

- 25 साल की रेणुका से जब पूछा कि इतने पैसों का क्या करेंगे, तो मुस्कुरा कर बोली- सोचा नहीं है।

- उनकी कंपनी तोलाराम ग्रुप 6 देशों में है और उनको कहीं भी ज्वाइन करना पड़ सकता है।

- करीब 45 कंपनियों ने इस बार यूबीएस को विजिट किया। इंफोसिस, पीसीएस, विप्रो आदि कंपनियों ने स्टूडेंट्स को बेहतर सैलरी पैकेज दिया है।

- बैंकर पिता और होममेकर मां की बेटी रेणुका कहती हैं कि उनके लिए एमबीए बहुत जरूरी था वह साबित करना चाहती थी कि उनके एरिया के युवाओं को मौका मिले तो वह सब कुछ कर सकते हैं।

- थोड़ा इमोशनल होते हुए कहती हैं कि बेस्ट देना जरूरी था क्योंकि मेरे गांव का नाम भी तो कहीं नजर आना चाहिए।

10 जगह रिजेक्शन के बाद मिला सबसे ज्यादा पैकेज

- इसी ग्रुप से दूसरा सबसे बड़ा पैकेज मिला है आदित्य पांडे को। उनके लिए यह ऑफर कोई आसान नहीं था क्योंकि इससे पहले 10 कंपनियां उनको रिजेक्ट की लिस्ट में डाल चुकी थीं।

- जगह-जगह से इनकार को भुलाकर उन्होंने इस कंपनी में बैठने का निर्णय किया और सबसे ज्यादा पैकेज मिला।

- कहते हैं कि प्रेशर बहुत ज्यादा है लेकिन फिर भी पॉजिटिव सोच और कोशिश नहीं छोड़नी चाहिए। जगह-जगह से रिजेक्शन के दौरान भी उनकी फैकल्टी और परिवार ने उनका पूरा साथ दिया।

रेणुका किन्नौर जिले की सांगला वैली से विलांग करती हैं। रेणुका किन्नौर जिले की सांगला वैली से विलांग करती हैं।
यूबीएस में इस बार औसत सैलरी 9 लाख रुपए। यूबीएस में इस बार औसत सैलरी 9 लाख रुपए।