--Advertisement--

महिला आईएएस का कई अफसरों पर यौन शोषण का आरोप, महिला आयोग ने पीड़ित समेत 3 अफसरों को समन भेजा

मामले को जांच में शामिल करेगा महिला आयोग

Danik Bhaskar | Jun 12, 2018, 04:57 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

चंडीगढ़. पशुपालन एवं डेयरी विभाग में तैनात महिला आईएएस अफसर की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) पर लगाए गए यौन शोषण के आरोप पर राज्य महिला आयोग ने सोमवार को दोनों अधिकारियों को समन जारी किए। उन्हें दोपहर 2 बजे पेश होने को कहा। पीड़ित महिला अफसर 2:10 बजे आयोग के दफ्तर पहुंची, पर एसीएस सुनील कुमार गुलाटी ने 3 दिन का समय मांगा। महिला आईएएस ने आयोग के अफसरों के सामने साढ़े तीन घंटे तक बयान दर्ज करवाए।

- अपनी बात रखी। उन्होंने न केवल एसीएस पर याैन शोषण का आरोप लगाया, बल्कि पिछले 3 साल की अवधि में अलग-अलग जगह ड्यूटी के दौरान साथ काम कर चुके कुछ सीनियर अधिकारियों पर भी ऐसे आरोप लगाए हैं। अब महिला आयाेग उन अधिकारियों को भी जांच में शामिल करेगा।

- आयोग ने राजस्व विभाग की एसीएस केशनी आनंद अरोड़ा को तो सोमवार को ही बुलाया था। उन पर महिला अधिकारी ने लिखित शिकायत न करने का आरोप लगाया है। महिला आयोग की चेयरपर्सन ने कहा कि महिला आईएएस की सुरक्षा के लिए डीजीपी को भी लिखा जाएगा।

हमारी प्रक्रिया के बाद दूसरी एजेंसी से कराएंगे जांच: आयोग
- महिला आयोग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन ने कहा, 'पीड़ित महिला आईएएस, एसीएस सुनील कुमार गुलाटी और केशनी आनंद अरोड़ा को समन जारी किया था। गुलाटी ने तीन दिन का समय मांगा है, लेकिन उन्हें बुधवार को आने के लिए कहा है।

- महिला आईएएस ने पूर्व में ड्यूटी के दौरान साथ रहे सीनियर अधिकारियों पर भी यौन शोषण का आरोप लगाया है। इसलिए उन्हें भी जांच में शामिल किया जाएगा। इनमें बड़े अधिकारी भी हैं। हम महिला आईएएस के साथ हैं, उनकी पूरी बात सुनी है। अभी एक पक्ष सामने आया है, दूसरा पक्ष आना बाकी है। इसलिए अभी कुछ कहना उचित नहीं होगा। सीसीटीवी फुटेज आदि भी देखी जाएंगी।

मुझ पर गंभीर आरोप, 3 दिन का समय चाहिए: एसीएस

- एसीएस सुनील कुमार गुलाटी ने 4 बजे महिला आयोग की ई-मेल पर एक चिट्‌ठी भेजी। इसमें लिखा कि उन पर गंभीर आरोप लगे हैं। इसलिए उन्हें तीन दिन का वक्त चाहिए। वह सभी सबूतों के साथ आयोग के सामने पहुंचेंगे। इसके बाद महिला आयोग ने उन्हें बुधवार को पहुंचने के लिए कहा है।

आईएएस लॉबी हावी, सीबीआई जांच हो: महिला अधिकारी

- महिला आईएएस अधिकारी ने एक घंटे तक पत्रकारों के सामने अपनी बात रखी। कहा, ‘मैंने फेसबुक पोस्ट में जो लिखा है, वही बातें आयोग के सामने रखीं। अब चीफ सेक्रेटरी और पुलिस को भी शिकायत दी है। मैं कानूनी लड़ाई भी लडूंगी।

- मैं सीबीआई या ऐसी किसी एजेंसी से जांच चाहती हूं, जो हरियाणा सरकार के सिस्टम से न जुड़ी हो। साढ़े तीन साल में जो मेरे साथ हुआ, वह सब आयोग को बताया है। मैंने अपनी सुरक्षा की भी मांग की है। यहां आईएएस लॉबी हावी है, जो अब आक्रामक हो रही है।’