--Advertisement--

बहन से नजदीकियां बढ़ने से नाराज था जीजा, तीन भाइयों संग मिलकर कर दी साले की हत्या

बचने के लिए झूठी कहानी गढ़ी, पुलिस की सख्ती पर कबूला गुनाह

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 08:51 AM IST
डेमो फोटो डेमो फोटो

नई दिल्ली. बहन से नजदीकी बढ़ने से नाराज जीजा राजू (32) ने तीन भाइयों के साथ मिलकर डंडे, पाइप और बेल्ट से मार-मारकर साले शैलेंद्र (32) की हत्या कर दी। मामला 11 जून का है। मौत के बाद आरोपियों ने पुलिस के सामने झूठी कहानी गढ़ी। शक होने पर पुलिस ने सख्ती से
पूछताछ की तो आरोपियों के गुनाह कुबूल कर लिया। ये था पूरा मामला...


उनकी पहचान राजू के अलावा सुरेश (27) और हेमराज (26) के रूप में हुई। पुलिस चौथे आरोपी की तलाश कर रही है। आरोपी आनंदपुर धाम के कराला के रहने वाले हैं। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल दो हिस्से में टूटा डंडा और बेल्ट बरामद किया है। बाहरी जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त राजेंद्र सिंह सागर के मुताबिक, 12 जून की रात 12.30 बजे राजू ने कॉल कर आगरा निवासी शैलेंद्र की मौत की सूचना दी। पुलिस ने आनंदपुर धाम की गली नंबर-9 में स्थित घर से शव बरामद किया। उसके शरीर और चेहरे पर चोट के निशान थे।

खुद को बचाने के लिए राजू ने पुलिस को बताया कि उसका साला शैलेंद्र इलाके के साप्ताहिक बाजार में आया था। उसने एक महिला पर कमेंट पर किया। इससे गुस्साए लोगों ने बुरी तरह उसकी पिटाई की। उसे जख्मी हालत में घर लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। राजू की कहानी पर पुलिस को शक हुआ। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया।

हत्या वाले दिन जीजा की बहन से मिलने आया था शैलेंद्र

पुलिस के मुताबिक, पेशे से पेंटर शैलेंद्र पहले आरोपियों के साथ ही रहता था। इस दौरान राजू की बहन से उसकी नजदीकियां बढ़ने लगी। पता चलने पर उसने विरोध किया। इस कारण शैलेंद्र पिछले साल वहां से चला गया और मंगोलपुरी में किराए पर रहने लगा। इसके बावजूद जीजा की बहन से उसकी नजदीकियां कम नहीं हुईं। वह उससे मिलने अक्सर आता था। 11 जून को भी वह मिलने आया था। इसी दौरान राजू के एक भाई ने अपनी बहन और शैलेंद्र को मिलते हुए देख लिया। इसके बाद चारों भाइयों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। 10 जून को राजू की पत्नी यानी शैलेंद्र की बहन मायके आगरा गई थी।

X
डेमो फोटोडेमो फोटो
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..