--Advertisement--

बेंगलुरू में 100 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा, डॉक्टरों के बीच होती थी साठगांठ

मेडिकल सेंटरों में साठगांठ, टेस्ट पर 20-35% का कमीशन लेते थे डॉक्टर

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 06:02 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

बेंगलुरू. आयकर अमले ने आईवीएफ क्लीनिक और डायग्नोस्टिक सेंटरों पर छापामार कार्रवाई में 100 करोड़ की अघोषित आय पकड़ी है। डॉक्टरों और मेडिकल सेंटरों के बीच साठगांठ का पता चला है। आयकर अफसरों ने दावा किया है कि मेडिकल टेस्ट के लिए रेफर करने पर डॉक्टरों को भुगतान किया जाता था।

सूत्रों ने बताया कि दो आईवीएफ और पांच डायग्नोस्टिक सेंटरों पर तीन दिन चली कार्रवाई में 1.4 करोड़ की नकदी और 3.5 किलो जूलरी और सोना, चांदी जब्त किया गया है। विदेशी करंसी के साथ ही विदेशी बैंक खातों का पता चला है जिनमें करोड़ों रुपए की रकम जमा है। मेडिकल सेंटरों पर छापों में 100 करोड़ की बेहिसाबी आय पकड़ में आई है। केवल एक मेडिकल सेंटर से ही डॉक्टरों को 200 करोड़ की रेफरल फीस दी गई यानी कि मेडिकल जांच के लिए मरीज को भेजने के एवज में रकम दी गई।

अलग-अलग कमीशन
आयकर अफसरों ने बताया कि सेंटरों से अलग-अलग कमीशन दिया जाता था। औसतन एमआरआई पर 35% और सीटी स्कैन व अन्य टेस्ट पर 20% का कमीशन दिया जा रहा था। इसे मार्केटिंग खर्च के तौर पर दिखाया जा रहा था। हर 15 दिन में भुगतान और एडवांस में नकद भुगतान सहित चार तरीकों से डॉक्टरों को पैसा मिलता था। चेक से पेमेंट देने पर इसे प्रोफेशनल फीस बताया जाता था। उनको इनहाउस कंसलटेंट के तौर पर दिखाया जाता था।