--Advertisement--

सरकारी नौकरी पक्की थी, दूसरी परीक्षा में सिम डिवाइस-ईयरफोन से नकल करते पकड़ी गई

एसएससी सीपीओ (सब इंस्पेक्टर रैंक की परीक्षा) की परीक्षा में नकल के इरादे से पहुंची एक युवती पकड़ी गई।

Danik Bhaskar | Dec 18, 2017, 05:46 AM IST

नई दिल्ली। एसएससी सीपीओ (सब इंस्पेक्टर रैंक की परीक्षा) की परीक्षा में नकल के इरादे से पहुंची एक युवती पकड़ी गई। उसने अंडरगार्मेंट्स में सिम डिवाइस और बिना तार का छोटा ईयरफोन लगा रखा था। परीक्षा शुरू होने के बाद वह इसके जरिए अपने ब्वॉयफ्रेंड से जवाब पूछ रही थी। तभी उसे पकड़ लिया गया। पूछताछ में पता चला कि उसका ब्वॉयफ्रेंड घर पर सवालों के जवाब देने के लिए पूरी तैयारी के साथ बैठा था। घटना शुक्रवार को ओखला इंडस्ट्रियल एरिया की है। पुलिस ने आरोपी युवती के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

कानूनी कार्रवाई पूरी होने के बाद उसे बॉन्ड भरवाकर छोड़ दिया गया। पुलिस ने नकल में इस्तेमाल होने वाले उपकरण जब्त कर लिए हैं। इस केस में आरोपी का ब्वॉयफ्रेंड भी जांच के दायरे में है। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार को यूनिसन ग्लोबल अकादमी ब्लॉक डी में एसएससी सीपीओ टियर टू की परीक्षा हुई थी। यह परीक्षा दिल्ली पुलिस और सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स में सब इंस्पेक्टर पद के लिए थी। इस सेंटर पर हरियाणा के हिसार की रहने वाली 23 साल की मोनिका परीक्षा देने के पहुंची थी।

दोस्त जब कॉल करता तो बिना घंटी बजे ही ऑटोमेटिक उठ जाता था फोन

नकल कराने का आइडिया मोनिका के ब्वॉयफ्रेंड मंदीप का था। वह भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है। इस काम के लिए उसने एक हजार रुपये से कम कीमत वाली लोकल सिम डिवाइस और ईयरफोन खरीदा। 0.5 सेंटीमीटर आकार वाला ईयरफोन माेनिका ने कान में लगा लिया और सिम डिवाइस अंडरगारमेंट में छिपा ली। खास बात यह है कि मंदीप इस सिम पर जब कॉल करता तो वह बिना घंटी बजे ऑटोमेटिक फोन उठ जाता। मोनिका सवाल दोहराती तो मंदीप को पता चल जाता। इसके बाद वह उन सवालों के जवाब गूगल की मदद से उसे बता देता।

इसी साल पास की थी एसएससी की परीक्षा

सब इंस्पेक्टर चंदन कुमार ने बताया कि युवती ने इसी साल एलडीसी पद पर एसएससी की परीक्षा पास की थी। उसकी सरकारी नौकरी का बस नियुक्ति पत्र मिलने का इंतजार था। हिसार से कला विषय में ग्रैजुएशन कर चुकी मोनिका लंबे समय से कॉम्पिटीशन एग्जाम की तैयारी कर रही थी। उसने दिल्ली में रहते हुए ही एग्जाम को पास करने के लिए बाकायदा कोचिंग भी ली थी। सब इंस्पेक्टर की पहली परीक्षा वह पास कर चुकी थी, दूसरे एग्जाम में वह फंस गई। अब सरकारी नौकरी पर भी तलवार लटक गई है।

युवती पर धोखाधड़ी और साजिश का केस दर्ज

एग्जाम शुरू होने के कुछ देर बाद ही वह ईयरफोन से किसी से बात करते दिखी। महिला स्टाफ ने तलाशी ली तो अंडरगार्मेंट्स से सिम डिवाइस और ईयरफोन मिला। परीक्षा सेंटर के अधीक्षक मंदीप ने शिकायत पुलिस से की। युवती पर ओखला क्षेत्र थाने में धोखाधड़ी व साजिश का केस दर्ज कर लिया।