--Advertisement--

‘आप’ की पार्षद का आरोप- बीजेपी महिला पार्षदों ने तोड़ दिया मेरा हाथ

दक्षिण नगर निगम का भ्रष्टाचार उजागर करने पर भाजपा की महिला पार्षदों ने आम आदमी पार्टी की महिला पार्षद का हाथ तोड़ दिया।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 06:13 AM IST

नई दिल्ली. भाजपा शासित दक्षिण नगर निगम का भ्रष्टाचार उजागर करने पर भाजपा की महिला पार्षदों ने आम आदमी पार्टी की महिला पार्षद का हाथ तोड़ दिया। मगर इस मामले में न तो पुलिस मामला दर्ज कर रही है और न इसे गंभीरता से ले रही है। आम आदमी पार्टी के पार्षदों ने गुरुवार को आरोप लगाया कि बुधवार को सदन में बीजेपी की महिला पार्षदों ने आम आदमी पार्टी की दलित और महिला पार्षद कृष्णावती के साथ मारपीट की। इसकी वजह से आप पार्षद को गंभीर चोटें आईं।


आप पार्षदों ने इस की शिकायत पुलिस से की है पर दिल्ली पुलिस पीड़ित पार्षद का कोई सहयोग नहीं कर रही है। आप के प्रवक्ता दिलीप पांडेय और महिला पार्षद कृष्णावती ने प्रेस कांफ्रेंस की। उन्होंने बताया कि आप ने बुधवार को सदन में बिल्डिंग डिपार्टमेंट के भ्रष्टाचार पर सवालों का जवाब मांगा था। इसके बदले मेयर कमलजीत सहरावत ने आप के पार्षदों को 15 दिन के लिए सदन से ही सस्पेंड कर दिया।


‘भाजपा के हजारों करोड़ के घोटाले पर कांग्रेस चुप क्यों’
आम अादमी पार्टी ने कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए कहा कि बीजेपी के हजारों करोड़ रुपए के घोटाले पर कांग्रेस पूरी तरह से मौन है। दरअसल निगम के भ्रष्टाचार में कांग्रेस भी हिस्सेदार है। इसलिए कांग्रेस कोई आवाज नहीं उठा रही है।

भाजपा : सुर्खियों में बने रहने के लिए ही आप के पार्षदों ने सदन में हंगामा किया

नेता सदन : हाथ में फ्रैक्चर का दावा ही गलत, बुधवार रात से यह बढ़ कैसे गया

महिला पार्षद से हाथापाई के मामले में आप और भाजपा दोनों ही पार्टी के निगम पार्षदों ने एक दूसरे के विरुद्ध पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। भाजपा के नेता सदन और स्थाई समिति के अध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने गुरुवार को प्रेस वार्ता कर कहा कि बुधवार को सुर्खियों में बने रहने के लिए आप के निगम पार्षदों ने सदन में हंगामा किया। नेता सदन शिखा राय ने कहा कि विपक्ष के हमलावर होने के कारण अब सदन की बैठकों में महिला मार्शल की तैनाती जरूर हो गई है। हम इसकी शिकायत एलजी और सीएम से करेंगे। राय ने कहा कि आप की सदस्य कृष्णावती का यह दावा कि उनके हाथ में फ्रैक्चर हुआ है उचित नहीं है, क्योंकि उनके प्लास्टर का आकार बुधवार रात से गुरुवार तक काफी बढ़ गया है। राय ने कहा कि शायद दिल्ली सरकार के अस्पताल पर कृष्णावती की संदिग्ध चोट की एमएलसी तैयार करने के लिए दबाव डाला गया होगा।

निगम के पास रखी वीडियो रिकॉर्डिंग की होगी जांच
भाजपा की महिला सदस्यों ने भी महापौर को एक लिखित शिकायत दी है। इसमें उन्होंने कहा कि हंगामे में सक्रिय रूप से शामिल महिला सदस्य ने भाजपा की महिला सदस्यों को नतीजे भुगतने की चेतावनी दी थी। राय ने कहा कि महापौर इन दोनों शिकायतों की निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार जांच करेंगी। इसके अलावा निगम के पास उपलब्ध वीडियो रिकॉर्डिंग की भी जांच की जाएगी।