--Advertisement--

शुभ मंगलम सावधान: बेटी ब्याहने के लिए गुण ही नहीं, कर्ज की ‘कुंडली’ भी देख रहे

करोड़ रुपए से अधिक का कारोबार करने वालों में ये चलन बढ़ रहा, जानना चाहते हैं लड़के वाले कर्ज में डूबे तो नहीं

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:40 AM IST

नई दिल्ली. शादी करने के लिए सिर्फ चाल-चलन ही नहीं, आपका क्रेडिट स्कोर भी अच्छा होना चाहिए। यानी आपने जो भी कर्ज लिया है उसे ईमानदारी से चुकाया भी हो या चुका रहे हों। कर्ज लेकर घी पीने के बढ़ते चलन को देखते हुए कारोबारी बेटी ब्याहने के दौरान कुंडली से पहले लड़के की क्रेडिट (कर्ज) जानकारी जुटा रहे हैं। इसके लिए कारोबारी क्रेडिट इनफॉरमेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड (सिबिल) की मदद ले रहे हैं। सिबिल की सहायता से किसी भी व्यक्ति के कर्ज का विस्तृत ब्योरा हासिल किया जा सकता है।


- इस संबंध में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से जुड़े अजीत श्रीवास्तव ने बताया कि वे लोन का काम करते हैं, इसलिए लोन लेने वालों का पहले वे सिबिल चेक करते हैं।

- उन्होंने बताया कि हैरानी तब हुई जब उनके एक कारोबारी मित्र ने अपनी लड़की की शादी के लिए पसंद किए दूल्हे का सिबिल चेक करने के लिए उसका पैन नंबर दिया।

- श्रीवास्तव ने बताया कि कारोबारियों के बीच यह चलन बढ़ता जा रहा है। इस बारे में और पड़ताल करने पर पता चला कि करोड़ रुपए से अधिक का कारोबार करने वालों के बीच यह प्रथा बनती जा रही है।

- इस बारे में पूछने पर कारोबारी अनिल बंसल ने बताया कि उनके परिवार में शादी से पहले लड़के वालों की सिबिल जानकारी इसलिए जुटाई जाने लगी है क्योंकि इससे सामने वाली पार्टी (लड़के वाले) के ट्रैक का पता चल जाता है। कई बार लड़के वालों के घर-द्वार को देखने से वह करोड़पति दिखता है, लेकिन असल में उसकी औकात उतनी नहीं होती। सिबिल की मदद से यह पता चल जाता है कि उस पर कितना कर्ज चल रहा है। अगर उसके नाम पर कोई लोन रहा है तो वह राशि क्या है और वह उस कर्ज को चुकाने में कहां तक सक्षम है।

- बंसल कहते हैं, सिबिल किसी लड़के की आर्थिक कुंडली है जो उसकी हर दशा बता देती है। कारोबारी मुकेश सिंघल ने बताया कि कारोबारी परिवार से ताल्लुक रखने वाले लोग बेटी के ब्याह में काफी खर्च करते हैं । ऐसे में, वे कोई धोखा खाना नहीं चाहते हैं।

- उन्होंने बताया कि कर्ज लेने के बढ़ते चलन के बाद से यह पता नहीं चल पाता है कि लड़के वालों के पास जो दिख रहा है, वह सब उसका अपना है या कर्ज पर। कई बार तो सिबिल की जानकारी हासिल करने के लिए कारोबारी परिवार प्राइवेट डिटेक्टिव की भी मदद लेते हैं।

कैसे जानते हैं सिबिल
- अगर आप किसी बैंक से सिबिल के बारे में जानकारी लेंगे तो सिर्फ उस बैंक से संबंधित जानकारी मिलेगी। मान लें एसबीआई हमारा सिबिल करता है तो सिर्फ स्टेट बैंक के लोन या क्रेडिट स्कोर की जानकारी मिलेगी। अन्य बैंक का वहां शो नहीं होगा। सिबिल की वेबसाइट cibil.com पर जाकर भी क्रेडिट स्कोर की जानकारी ली जा सकती है।

- इसके लिए 550 रुपए से लेकर 1200 रुपए तक का चार्ज लगता है। सिबिल के अलावा दो-तीन अन्य क्रेडिट रेटिंग एजेंसियां भी हैं जो क्रेडिट स्कोर मुहैया कराती हैं। आधार कार्ड नहीं होने पर भी सिबिल स्कोर देखा जा सकता है। लेकिन पैन कार्ड होना अनिवार्य है।